< मोड़ी-मोड़ा संगे बब्बा बऊ भी दौड़े, सबने जम के दौड़ लगाई Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News प्रेस विज्ञप्ति

जिन्दगी से कैसे "/>

मोड़ी-मोड़ा संगे बब्बा बऊ भी दौड़े, सबने जम के दौड़ लगाई

प्रेस विज्ञप्ति

जिन्दगी से कैसे करें प्यार, इसके लिए स्वास्थ्य का रखें ध्यान, दौड़ने से ही होगा इस समस्या का निदान, जी हां यही मंत्र लेकर आज बांदा के लगभग 700 जागरूक लोगों ने मिनी मैराथन में भाग लिया और पूरे पांच किमी. की इस मिनी मैराथन को दौड़कर पूरा भी किया। क्या बूढ़े और क्या जवान लग रहा था कि यही है बांदा। एक जुनूनी लोगों का शहर जो अपने स्वास्थ्य के प्रति बेहद जागरूक हैं। और दूसरों को भी यही संदेश देने की कोशिश कि अगर अपनी जिन्दगी से प्यार है तो सबसे पहले अपने स्वास्थ्य पर ध्यान दो। जिन्दगी यानि आपकी भी और आपके परिवार की भी। जब आप स्वस्थ होंगे तो अपने परिवार के स्वास्थ्य का ध्यान रख पायेंगे।

बिल्कुल यही मंशा लेकर बच्चों से लेकर बांदा के बुजुर्ग नागरिकों ने इस मिनी मैराथन में प्रतिभाग किया। कुछ लोगों ने बुन्देली भाषा में कुछ यूं कहा, ‘‘मोड़ी-मोड़ा संगे बब्बा बऊ भी हते। संगे हते लोग लुगाई, सबने जम के दौड़ लगाई’’।

दौड़ अपने नियत समय पर शुरू हुई। सुबह साढ़े चार बजे से प्रतिभागियों का आना शुरू हो गया था। ठीक 6 बजे जिले की पुलिस कप्तान शालिनी और पूर्व एमएलसी युवराज सिंह ने रामलीला मैदान गेट से हरी झंडी दिखाई तो एक एक करके प्रतिभागी तय रूट पर दौड़ने लगे। बांकर गंज, मयूर टाॅकीज होते हुए बाबूलाल चैराहे पर पहला चेक प्वाइंट बनाया गया था, जहां से टोकन लेकर प्रतिभागी अपने गंतव्य की ओर दौड़ते जा रहे थे। दूसरा चेक प्वाइंट गणेश चैक (खूंटी तिराहा) बनाया गया था। उसके बाद जिला परिषद होते हुए मर्दननाका पुलिस चैकी पर तीसरा चेक प्वाइंट से प्रतिभागियों ने टोकन लिया। चैथा चेक प्वाइंट झंडा चैराहा पर बनाया गया था। यहां से होते हुए प्रतिभागी पद्माकर चैराहे पर बने पांचवें और अन्तिम चेक प्वाइंट से टोकन लेकर वापस रामलीला मैदान पहुंचे।

जैसे-जैसे गंतव्य नजदीक आ रहा था, वैसे-वैसे प्रतिभागियों के कदमों की रफ्तार बढ़ती जा रही थी। कुल मिलाकर बच्चे हों, जवान हों या वरिष्ठ नागरिक सभी ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए दौड़ पूरी की। खास बात यह रही कि पूरे पांच किमी. अधिकांश लोग बिना रूके दौड़े। दौड़ पूरी करने के बाद चार वर्गों में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पर विजयी प्रतिभागियों के नामों की घोषणा हुई, जो इस प्रकार हैं

बालक वर्ग - मोहित, राजकुमार और प्रियांशु क्रमशः प्रथम, द्वितीय व तृतीय रहे।

पुरुष वर्ग - गौरव पाण्डेय, राज सिंह और राम प्रताप क्रमशः प्रथम, द्वितीय व तृतीय रहे।

महिला वर्ग - आस्था, श्वेता धुरिया और संगीता यादव क्रमशः प्रथम, द्वितीय व तृतीय रहीं।

वरिष्ठ नागरिक - शोभाराम कश्यप, राजकुमार राज और कैलाशचन्द्र मेहरा क्रमशः प्रथम, द्वितीय व तृतीय रहे।

विजयी प्रतिभागियों को पुरस्कार वितरण के पहले स्टेज आर्टिस्टों द्वारा स्वच्छता पर एक लघु नाटिका ‘स्वच्छता हम सबकी जिम्मेदारी’ भी प्रदर्शित की गई। बांदा के रहने वाले चन्द्रभाष सिंह के निर्देशन में इस लघु नाटिका के मंचन को सभी लोगों ने भरपूर सराहा।

अन्त में बांदा जिले की पुलिस कप्तान शालिनी एवं पूर्व एमएलसी युवराज सिंह ने सभी विजयी प्रतिभागियों को पुरस्कार व शील्ड देकर सम्मानित किया। इस दौरान आयोजन समिति के सदस्य टीम इनोवेशन से श्याम निगम, सचिन चतुर्वेदी, अभिषेक सिंह, दिनेश दीक्षित, अरूण निगम व संजय निगम अकेला, व्यापार मण्डल से मनोज जैन, अमित सेठ भोलू व सुरेश कान्हा, रामेन्द्र शर्मा व उनकी टीम इस कार्यक्रम को कराने के लिए उपस्थित रहे।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें