< हेलमेट एवं सीट बेल्ट पहनने के लिये अभियान चलाया जाए: मण्डलायुक्त Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News मण्डलायुक्त श्रीमती कुमुदलता श्रीवास्तव ने सड़क परिवहन एवं राज"/>

हेलमेट एवं सीट बेल्ट पहनने के लिये अभियान चलाया जाए: मण्डलायुक्त

मण्डलायुक्त श्रीमती कुमुदलता श्रीवास्तव ने सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय, भारत सरकार के पत्र के क्रम में बतलाया है कि 23 से 30 अप्रैल तक 29 वां सड़क सुरक्षा सप्ताह मनाये जाने का निर्णय लिया गया है, जिसकी थीम ‘‘सड़क सुरक्षा-जीवन रक्षा है। उन्होने इस अवधि में सड़क सुरक्षा के विषय पर मण्डल एवं जनपद स्तर पर अधिक से अधिक कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देश दिए है। साथ ही परिवहन आयुक्त द्वारा निर्धारित कार्यक्रमों की समय सारणी के अनुसार विभिन्न कार्यक्रमो को आयोजित करने पर बल दिया है। उन्होने सभी जिलाधिकारियो, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों, सम्भागीय परिवहन अधिकारियो को निर्देशित किया है कि वे सड़क सुरक्षा-जीवन रक्षा के कार्यक्रम में जिले के प्रभारी मंत्री, सांसद एवं विधायकगण को मुख्य अतिथि के रुप मे प्रतिभाग करने हेतु आमंत्रित करे।

श्रीमती कुमुदलता श्रीवास्तव ने निर्देशित किया है कि प्रत्येक जनपद स्तर पर सड़क सुरक्षा से सम्बन्धित वृहद कार्यशाला का आयोजन किया जाए। जिसमें सड़क सुरक्षा से सम्बन्धित सभी स्टेक होल्डर को आमंत्रित किया जाए। विद्यालयों में सड़क सुरक्षा विषय पर एक विशेष असेम्बली आयोजित की जाए तथा परिवहन एवं पुलिस विभाग के अधिकारियो को सड़क सुरक्षा के उपायों पर असेम्बली को सम्बोधित करने हेतु भेजा जाए।

मण्डलायुक्त ने सम्भागीय परिवहन अधिकारी को निर्देशित किया है कि वे इस अवसर पर चालकों विशेषकर स्कूल बस चालको के नेत्र एवं स्वास्थ्य परीक्षण हेतु जिला चिकित्सालय एवं आई.एम.ए. के सहयोग से हेल्थ कैम्प का आयोजन कराये। इसके साथ-साथ हेलमेट एवं सीटबेल्ट के उपयोग एवं आवश्यकता के बारे में स्वयंसेवी संस्थाओं एन.सी.सी., ब्वायज, स्काउटस, लायन क्लब, रोटरी क्लब इत्यादि की सहभागिता से जागरुकता अभियान चलाया जाए। सरकारी कार्यालयो में भी हेलमेट एवं सीटबेल्ट पहनने के नियम का कडाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाए।

हेलमेट एवं सीटबेल्ट पहनने के नियम के पालन हेतु प्रभावी प्रवर्तन अभियान भी चलाया जाए। साथ ही सड़क सुरक्षा के विषय में जन जागरुकता उत्पन्न करने हेतु साईकिल रैली, पैदल फुुटमार्च एवं सड़क दुर्घटना में मृत व्यक्तियों की स्मृति में कैडिल मार्च भी आयोजित किया जाए।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें