< शालाओं एवं बालिका छात्रावास में लगातार भ्रमण जारी Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News जिला परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा केन्द्र पन्ना द्वारा 24 अप्रै"/>

शालाओं एवं बालिका छात्रावास में लगातार भ्रमण जारी

जिला परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा केन्द्र पन्ना द्वारा 24 अप्रैल को जमुनहाई, राजापुर, मठली, बिल्खुरा, उडकी, अहिरगवां कैम्प, चमारनटोला, कुर्मीटोला, बिल्खुरा, ठाकुरनपुरा स्थित शालाओं एवं बालिका छात्रावास रक्सेहा का निरीक्षण किया गया।

निरीक्षण के दौरान प्रातः 7.40 बजे मा0शा0 जमुनहाई में दोनांे शिक्षक श्री सुखराम प्रजापति एवं श्रीमती विमला सिंह शाला मंे विलम्ब से 7.50 पर उपस्थित हुये तथा प्रा.शा. के श्री विजय कुमार शर्मा अनुपस्थित रहे। प्रा.शा. प्रभारी श्री मोहन लाल कुशवाहा उपस्थित मिले उनके द्वारा 7 बजे से ग्राम सम्पर्क कर बच्चांे को शाला भेजने हेतु प्रयास किया गया। ग्रामीणजनों द्वारा श्री कुशवाहा के नियमित एवं समय से विद्यालय आने की पुष्टि की गई।

प्राथमिक शाला राजापुर 8 बजे बन्द मिली दोनों शिक्षिकाएं श्रीमती कविता मण्डल एवं श्रीमती पुतुल रानी पाल अनुपस्थित मिली। ग्रामीणजनों द्वारा दोनों महिलाओं के लापरवाह होने की जानकारी दी गई। प्रातः 8.15 पर ग्राम मठली की प्राथमिक एवं माध्यमिक दोनों शालाएं बन्द मिली। शाला के समीप निवासरत ग्रामीणांे द्वारा बताया गया कि 10 बजे से पहले कभी भी शिक्षक नही आते। प्राथमिक शाला मठली के श्री सुनील गुप्ता, श्री बाल किशन प्रजापति, श्री संजय सिंह, श्री प्रमोद मिश्रा एवं मा.शा. मठली के श्री राम नारायण वर्मा एवं श्री राजकरण प्रजापति सभी अनुपस्थित पाये गये।

प्राथमिक शाला बिलखुरा के प्रभारी बाबूलाल प्रजापति अनुपस्थित मिले, जानकारी प्राप्त हुई कि उन्हे कुर्मीटोला बिलखुरा में तैनात किया गया है किन्तु वहां भी प्रजापति अनुपस्थित मिले। मा.शा. बिलखुरा की श्रीमती ज्योति दीक्षित एवं श्रीमती सावित्री प्रजापति अनुपस्थित पाई गई। प्रा.शा. उडकी में सभी शिक्षक उपस्थित मिले किन्तु मात्र 01 बच्ची उपस्थित मिली। शा.मा.शा. अहिरगवां कैम्प मंे सभी शिक्षक उपस्थित मिले परिसर साफ-सुथरा पाया गया। प्राथमिक मंे 5 एवं माध्यमिक में 20 बच्चें उपस्थित मिले। प्रा.शा. चमारनटोला में श्री राम लाल पटेल अनुपस्थित मिले किन्तु प्राचार्य रक्सेहा द्वारा उनके अवकाश में होने की पुष्टि की गई।

ठाकुरनपुरा में कार्यरत दोनों शिक्षिकाएं उपस्थित मिली किन्तु एक भी बच्चा शाला मंे उपस्थित नही मिला। इसके पश्चात 10.30 बजे बालिका छात्रावास रक्सेहा का भ्रमण किया जिसमें 73 दर्ज के विरुद्ध मात्र 17 बच्चियां पायी गई। जिला परियोजना समन्वयक द्वारा वार्डन को कारण बताओ सूचना पत्र जारी कर स्पष्टीकरण चाहा गया। अनुपस्थित शिक्षकों के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही के नोटिस जारी किये गये। जिला परियोजना समन्वयक द्वारा पुनः सभी को सचेत किया गया कि बिना स्वीकृत अवकाश के अवकाश पर न जाये। मात्र अवकाश आवेदन पत्र रखा जाना कि भी दृष्टि से मान्य नही है। उसे अनुपस्थित की श्रेणी में माना जायेगा।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें