< विधायक का जल निगम कार्यालय में धावा, एसी को पहनाई नोटो की माला Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News विधायक ने जल निगम के एसी को पहनाई नोटो की माला
जल संस्थान "/>

विधायक का जल निगम कार्यालय में धावा, एसी को पहनाई नोटो की माला

विधायक ने जल निगम के एसी को पहनाई नोटो की माला
जल संस्थान में जड़ा ताला, कमिश्नर को सौंपी चाभी

प्रदेश के मुख्यमंत्री जनता को राहत देने के लिए कल्याणकारी योजनाओं पर अमल करने के लिये अफसरों को निर्देश दे रहे है। लेकिन सरकारी विभाग में बैठे अफसर मुख्यमंत्री के फरमान की धज्जियां उड़ा रहे है। ऐसे अफसरों को ठीक करने को मंगलवार को तिन्दवारी विधायक ब्रजेश प्रजापति ने जल निगम और जल संस्थान के एसी आॅफिस में धावा बोला और भ्रष्टाचार की शिकायत पर जल निगम के अधीक्षक अभियन्ता एस.सी. श्रीवास्तव को नोटो की माला पहना दी और जमकर फटकार लगाई। फिर जल संस्थान कार्यालय गये तो वहां अधिकारी गायब मिले, विधायक ने उस कार्यालय में ताला जड़ा और चाभी कमिश्नर को सौंप दी।

विधायक ब्रजेश कुमार प्रजापति मंगलवार को सवेरे 10ः30 बजे अचानक जल निगम कार्यालय पहुंचे और एस.सी. श्रीवास्तव से पूछा कि कुछ जगह पाइपलाइन मानक के अनुरूप नही पड़ रही हैं जो पाइप लाइन एक मीटर होनी चाहिए वह छह इंची के पड़ रही है। यह मैंने स्वंय खुदवाकर देखा है। इसी तरह हैण्डपम्प में डाले जा रहे पाइप भी मानक के अनुरूप नही है। विधायक ने यह भी बताया कि हैण्डपम्प रिबोर करते समय पानी का टैंकर ग्रामीणों से मंगवाया जा रहा है, जबकि यह काम ठेकेदार को कराना चाहिये। इस पर एस.सी. श्रीवास्तव ने कोई जबाब नही दिया। उनसे पूछा गया कि शासनादेश के बावजूद कार्यालय में बाबा साहेब भीम राव अम्बेडकर व मुख्यमंत्री की फोटो क्यों नही लगी। इस पर भी कोई जबाव नही मिला।

विधायक ने एसी को फटकार लगाते हुए कहा कि पाइप लाइन व हैण्डपम्पों के लगाने में भ्रष्टाचार हो रहा हैं। आपकों जनता की समस्याओं की परवाह नही नोटो की परवाह है। इतना कहकर एसी. को विधायक ने नोटो की माला पहना दी।

इसके बाद विधायक श्री प्रजपति ने जल संस्थान के कार्यालय में धावा बोला जहां 10ः40 बजे तक अधिकारी नदारद थे यह देखकर विधायक ने कार्यालय में ताला जड़ दिया। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश है अधिकारी 9 बजे कार्यालय पहुंच जाये और जनता की समस्याएं सुने परन्तु अधिकारियों को मुख्ममंत्री के आदेश की परवाह नही है। 

इसके बाद विधायक चित्रकूट धाम मण्डल के कमिश्नर कार्यालय पहुंचे। वहां भी कार्यालय में बाबा साहेब और मुख्यमंत्री की तस्वीर नही मिली। इस पर विधायक ने नाराजगी जाहिर की। विधायक ने बताया कि मैंने जल संस्थान की चाभी कमिश्नर को सौंप दी और जल निगम द्वारा किये जा रहे भ्रष्टाचार के बारे में अवगत कराया तो कमिश्नर ने कहा कि आपकी सरकार है। आप भ्रष्टाचार को रोकिये, विधायक ने इस बयान पर नाराजगी जाहिर की। विधायक के साथ उनके पीआरओ मनोज प्रजापति भी शामिल रहे।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें