< फीस न जमा करने पर छात्र को परीक्षा से किया वंचित Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News जहां एक तरफ सरकार प्रतिदिन शिक्षा के स्तर को बढ़ाने के लिए दिन प्"/>

फीस न जमा करने पर छात्र को परीक्षा से किया वंचित

जहां एक तरफ सरकार प्रतिदिन शिक्षा के स्तर को बढ़ाने के लिए दिन प्रतिदिन प्रयास कर रही है। वहीं हमीरपुर जनपद के राठ में समय से फीस जमा न कर पाने पर एक छात्र को पेपर देने से वंचित करते हुए कक्षा से बाहर कर दिया गया।
जिस पर छात्र के पिता ने उपजिलाधिकारी सुरेश कुमार मिश्रा से मिल कर न्याय की गुहार लगाई। एसडीएम ने मामले को संजीदगी से लेते हुए एबीएसए को जांच कर कार्यवाही के आदेश दिये।कोतवाली क्षेत्र के नौहाई गांव निवासी महेश सिंह ने बताया कि उसका पुत्र प्रिंस राज कसबे के एक विद्यालय में कक्षा आठ का छात्र है। बताया कि उसने तीस मार्च तक की स्कूल फीस जमा कर दी। इसके बाद स्कूल के प्रधानाचार्य अपै्रल, मई व जून की फीस भी इकट्ठी जमा करने का दबाव बना रहा था। तीन माह की फीस जमा करने में हो रही देरी पर छात्र को परीक्षा में शामिल न करने की धमकी दी। 

उसने बताया कि प्रधानाचार्य से फीस जमा करने की बात कहते हुए पुत्र को परीक्षा में शामिल करने की गुहार लगाई। किन्तु प्रधानाचार्य द्वारा पुत्र को प्रताडित कर उसे पेपर न देने की धमकी दी जा रही हैं। स्कूल में प्रताड़ित हो रहे छात्र का मानसिक संतुलन खराब होता जा रहा है जिससे उसका भविष्य अंधकारमय हो जायेगा।

छात्र के पिता ने बताया कि शनिवार को जब प्रिंस राज स्कूल में पेपर देने गया तो प्रधानाचार्य ने स्कूल से भगा दिया तथा धमकी दी कि यदि तीन माह की फीस लेकर नहीं लाए तो हाथ-पैर तोड़ डालेंगे। एसडीएम ने मामले की संवेदनशीलता को भांपते हुए खण्ड शिक्षा अधिकारी को मामले की जांच कर नियमानुसार कार्यवाही की मांग की।
 

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें