< बुन्देलखण्ड में लुप्त हो रहे खेलों को प्रोत्साहित करेगी समिति Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News

बुन्देलखण्ड में लुप्त हो रहे खेलों को प्रोत्साहित करेगी समिति

बुन्देलखण्ड से लुप्त हो रहे खेलों को बुन्देलखण्ड खेल प्रोत्साहन समिति प्रोत्साहित करेगी और गांवों में  खेलकूद में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली प्रतिभाओं को और निखारा जायेगा। 

यह बात कल देर शाम समिति की मासिक बैठक में तय किया गया। समिति के सबल सिंह पूर्व क्रीड़ाधिकारी ने बताया कि बुन्देलखण्ड में गिल्ली डण्डा, कबड्डी, खो-खो, कुश्ती, तिरंदांजी, समुद्र तहाड़, गेंदबाजी, रस्सीकूद (किकली) से प्राचीन खेल लुप्त हो रहे है। ऐसे खेलों का अस्तित्व बचाने के लिए गांव-गांव में खेलकूद कराये जायेंगे और अच्छा प्रदश्रन करने वाले खिलाड़ियों को प्रोत्साहित और पुरस्कृत किया जायेगा।

स्मिति के सदस्य प्रदुम्न दुबे लालू ने इस समय सरकार भी खेलों को प्रोत्साहन दे रही है। सभी स्कूलों में खेल अध्यापक रखे जा रहे है। ऐसे में जरूरी है कि बुंदेलखण्ड की प्रतिभाओं को और निखारा जाये। पूर्व एमएलसी युवराज सिंह ने कहा कि अच्छे कार्यों से कारवां खुद आगे बढ़ने लगता है। जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष अशोक त्रिपाठी जीतू ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में खेलकूद के प्रति जागरूकता जरूरी है इसके लिए अभियान चलाया जायेगा।

इसी तरह बालीबाल के वरिष्ठ खिलाड़ी हसनउद्दीन सिद्दीकी ने बताया कि समिति की ओर से एक साल में 14-15 बालीवाल टूर्नामेंट कराये गये है जिसमें कई अच्छे खिलाड़ी नजर आये। उन्होंने कहा कि खेलों के प्रोत्साहन के लिए खेल जागरण अभियान जरूरी है।

बैठक में यह भी तय किया गया अगली बैठक जिला विद्यालय निरीक्षक की अगुवाई में होगी। बैठक ने समिति के जमाल उल्ला खां, धनजंय सिंह, शारीरिक शिक्षक रमेशचंद्र इत्यादि मौजूद रहे।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें