शराब की दुकान के लिए हैसियत व चरित्र बनवाने में लगी लोगों की भीड़

आबकारी आयुक्त द्वारा शराब की दुकानों के आवेदन में हैसियत व चरित्र प्रमाण पत्र अनिवार्य कर दिया है। साथ ही दुकानों के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 28 फरवरी तय है। जिसके चलते तहसीलों में हैसियत बनवाने के लिए लोगों की भीड़ जमा है। यही हाल चरित्र प्रमाण पत्र को लेकर है। लोगों की बढ़ती भीड़ राजस्व व पुलिस कर्मियों के लिए कमाई का जरिया बन गए हैं।

हालांकि विभागीय अधिकारी कर्मचारियों की इस कारगुजारी से अंजान हैं। वहीं लंबे समय से लंबित पड़े हैसियत प्रमाण पत्रों को लेकर आवेदकों की शिकायत पर जिलाधिकारी ने तहसीलदार सहित संबंधित लिपिक को कड़ी फटकार लगाई है। जिसके बाद मंगलवार को देर रात तक प्रमाण पत्र बनाने का काम जारी रहा।