website statistics
राश्ट्रीय स्वास्थ्स्य मिषन के अन्तर्गत बुन्देलखण्"/>

बीयू में आयोजित हुआ स्वैच्छिक रक्तदान शिविर

राश्ट्रीय स्वास्थ्स्य मिषन के अन्तर्गत बुन्देलखण्ड विष्वविद्यालय, जिला प्रषासन एवं आकांक्षा समिति, झांसी के संयुक्त तत्वाधान में स्वैच्छिक रक्तदान को बढ़ावा देने व समाज मे रक्तदान को लेकर व्याप्त भ्रान्तियो को दूर करने के उद्देष्य से आज दिनांक 09 फरवरी 2018 कोे बुन्देलखण्ड विष्वविद्यालय के केन्द्रीय पुस्तकालय में से प्रातः 11 बजे से  एक रक्तदान षिविर का आयोजन किया गया। रक्तदान षिविर का उद्धाटन करते बुनदेलखण्ड विष्वविद्यालय के कुलपति प्रो सुरेन्द्र दुबे ने कहा कि रक्तदान सदा से ही महादान माना गया हैं। कुलपति ने पुराणों का उदाहरण देते हुए कहा कि भारतीय संस्कृति तो देह दान की संस्कृति रही हैए जन कल्याण के लिए यहां के ऋशियों मुनियों तथा सन्तो ने अपनी देह एवं अस्थियां तक दान की है। उन्होंने विद्यार्थियों से इस अभियान में बढ़चढ़ कर भाग लेने की अपील भी की।

समारोह की मुख्य अतिथि एवं आंकाक्षा समिति झाॅसी की अध्यक्षा सुश्री सौम्या अवस्थी ने कहा कि आकांक्षा समिति द्वारा प्रत्येक जनपद में रक्तदान को लेकर लोगों को जागरूक करने का अभियान चलाया जा रहा है तथा लोगों कों अधिक से अधिक संख्या में स्वैच्छिक रूप से रक्तदान करने हेतु प्रेरित किया जा रहा है।

इससे पूर्व कार्यक्रम प्रारम्भ करते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा सुरेष कुमार ने कहा कि आज तकनीकी विकास के कारण रक्तदान से प्राप्त रक्त के विभिन्न भागों को अलग अलग कर एक साथ चार व्यक्तियों का जीवन बचाया जाता है। प्रदेष सरकार सभी जरूरतमंदों को उच्च गुणवत्ता का सुरक्षित रक्त समय उपलब्ध कराने हेतु कटिबद्व है, जिससे रक्त की कमी से किसी भी जीवन का ह्यस न होने पाये।
अतिरिक्त निदेषक.स्वास्थ्य डा एस बी मिश्रा ने कहा कि देष के युवाओं मे रक्तदान के प्रति उत्साह बढ़ रहा है। डा सिंह ने बताया कि यह गलत भ्रान्तियां है कि रक्तदान से हमारे शरीर को नुकसान पहूँचना है। मात्र कुछ ही घण्टों के अन्दर हमारे षरीर में रक्त की मात्रा पहले जितनी हो जाती है। उनका मानना था कि हमें नगर के सभी रक्त दानदाताओं की एक डायरी बनानी चाहिये ताकि आवष्यकता पडने पर विषिश्ट रक्तवर्ग के व्यक्ति को ही बुलाकर रक्तदान के द्वारा मरीज की जान बचाई जा सके।

आकांक्षा समिति, झांसी की संयुक्त सचिव एवं समाज सेविका डा नीति षास्त्री ने भी इस अवसर पर अपने विचार व्यक्त किये। विष्वविद्यालय के छात्र कल्याण अधिश्ठाता प्रो0 सुनील काबिया ने आमंत्रित अतिथियों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन डा0 मोहम्मद नईम ने किया।

इस अवसर पर प्रो वीके सहगल, प्रो एस के कटियार, डा जे श्री देवी, डा काब्या दुबे, डा पूनम मेहरोत्रा, डा के एल सोनकर, डा0 अंकित श्रीवास्तव, डा0 राहुल षुक्ला, डा स्वेता पाण्डेय, डा विनीत कुमार, अनिल बोहरे, सतीष साहनी, डा0 षिवाए डा0 षालिनी व्यास सहित विभिन्न विभागों के षिक्षक एवं षिक्षिकाएं उपस्थित रही।

विष्वविद्यालय के छात्र कल्याण अधिश्ठाता प्रो0 सुनील काबिया ने जानकारी दी कि आंकक्षा समिति झाँसी की अध्यक्षा सुश्री सौम्या अवस्थी ने भी रक्तदान किया। उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त रक्तदान षिविर के 43 विद्यार्थियों ने रक्तदान किया।



चर्चित खबरें