निरीक्षण के दौरान बन्द पाये गये आगनबाड़ी केन्द्र, समस्त स्टाफ का वेतन रूका

जनपद में जिलाधिकारी के निर्दश पर 31 जनवरी को चला औचक निरीक्षण अभियान के अन्तर्गत लगभग दर्जनों स्कूल व चालीस के आस-पास आंगनबाड़ी केन्द्र बन्द पाये गये थे। बन्द केन्द्रों में कार्यवाही करते हुए जिला कार्यक्रम अधिकारी ने पूरे स्टाफ का मानदेय रोक दिया और सीडीपीओं व सुपरवाइजरों को कड़ी चेतावनी देते हुए तीन दिनों के अन्दर स्पष्टीकरण देने के लिए कहा है।

गौरतलब है कि जिले में स्कूलों और आंगनबाड़ी केन्द्रों की स्थिति का पता लगाने के लिए जिलाधिकारी डाॅ. मन्नान अख्तर ने 31 जनवरी को अधिकारियों के माध्यम से स्कूलों व आंगनबाड़ी केन्द्रो का औचक निरीक्षण कराया था। शनिवार को जिला कार्यक्रम अधिकारी को निरीक्षण करने वाले अधिकारियों ने अपनी आख्या सौंप दी।

प्रस्तुत आख्या में कुल चालीस केन्द्र बंद होने का जिक्र किया गया था। जिसके बाद जिला कार्यक्रम अधिकारी ने चालीस केन्द्रों के पूरे स्टाफ का मानदेय रोक दिया। डीपीओ भगवत पटेल ने बताया कि तीन दिन के अंदर स्पष्टीकरण न देने वालों पर सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।