?> इस बुजुर्ग दिव्यांग की सुनने वाला कौन ? बुन्देलखण्ड का No.1 न्यूज़ चैनल । बुन्देलखण्ड न्यूज़ हमारे प्रधानमंत्री ने कभी विकलांग को दिव्यांग कहकर सहानुभूति ज"/>

इस बुजुर्ग दिव्यांग की सुनने वाला कौन ?

हमारे प्रधानमंत्री ने कभी विकलांग को दिव्यांग कहकर सहानुभूति जताई थी। लेकिन इन दिव्यांगों की ना सुनने की खबर देश के कोने कोने से आ रही हैं। ये मामला भी चित्रकूट जिले के अकबरपुर गांव का है। इस दिव्यांग सुरेश कुशवाहा का कहना है कि उसने डीएम साहब, एसडीएम साहब और लेखपाल साहब सबके समक्ष अपनी समस्या रखी। लेकिन गांव के दबंग प्रधान की दबंगई के सामने डीएम, एसडीएम और लेखपाल सहित सब प्रभावित नजर आए हैं।

अब समझा जा सकता है कि इस गांव का प्रधान कितना बड़ा दबंग होगा जिसके सामने आला अफसर से लेकर दरोगा जी तक पानी भर रहे हैं। हाँ दरोगा जी इनके पास पहुंचते नहीं और भरतकूप चौकी पर बैठे बैठे प्रधान से सांठगांठ कर मामले के द्विपक्षीय निस्तारण की रिपोर्ट लगाकर शासन को भेज देते हैं। जब सिस्टम के मकड़ जाल मे सुरेश कुमार फंसकर मौत के मुहाने पर खड़े हो जाते हैं तब उनकी आवाज बुंदेलखण्ड न्यूज तक पहुंचती है।

इनके खेत तक जाकर जब हमने स्थिति भांपी तो वास्तव मे चकमार्ग के कार्य मे भारी धांधली होने की बात सामने आई और तो और प्रधान जी ने चकमार्ग इस तरह से निर्माण कराया कि दिव्यांग के खेत तक किसी भी सूरत मे ट्रैक्टर पहुंचता हुआ नहीं दिख रहा है।

जिससे इनके जीवन यापन व कृषि कार्य पर भारी समस्या आ गई। पिछले दिनों कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही से भी मिले। उन्होंने भी न्याय दिलाने व कार्रवाई कराने का भरोसा दिलाया परंतु महसूस होता है कि इनकी जांच फिर से समस्त अधिकारी दबाकर बैठ रहे हैं या बैठ जाएंगे।

कुल मिलाकर अकबरपुर गांव की गंदगी और निर्माण कार्यों की धांधली इस गांव की समग्र जांच होने की ओर इशारा करता है। जहाँ लेखपाल का भी लंबा खेल है। स्वयं सुरेश कुमार का 60,000 वार्षिक आय का आय प्रमाण पत्र बना दिए। जबकि ये लघु सीमांत किसान है। कुल कृषि क्षेत्र 10 बीघे से कम है। लेकिन लेखपाल साहब प्रधान के इशारे पर दिव्यांग को प्रताड़ित कर पता नहीं कौन से तारे तोड़ ले रहे हैं। उत्तर प्रदेश सरकार को अगर भ्रष्टाचार खत्म करना है तो अकबरपुर जैसे गांव के नैनो किन्तु परमाणु बम से भी खतरनाक भ्रष्टाचार की जांच कराकर दिव्यांग को न्याय दिलाएं व दोषियों पर कार्रवाई सुनिश्चित हो।



चर्चित खबरें