?> क्रिकेटर श्रीसंत को स्पॉट फिक्सिंग मामले मे मिली राहत बुन्देलखण्ड का No.1 न्यूज़ चैनल । बुन्देलखण्ड न्यूज़ स्पॉट फिक्सिंग मामले में "/>

क्रिकेटर श्रीसंत को स्पॉट फिक्सिंग मामले मे मिली राहत

स्पॉट फिक्सिंग मामले में आजीवन प्रतिबंध झेल रहे क्रिकेटर एस. श्रीसंत को बड़ी राहत मिली है। केरल हाई कोर्ट ने BCCI द्वारा लगाए गए प्रतिबंध को हटा लिया है। श्रीसंत पर यह प्रतिबंध IPL-6 (2013) मे स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण में लिप्त पाए जाने पर लगाया गया था।

दरअसल, 2013 में IPL अपने अंतिम चरण में था, लेकिन तभी स्पॉट फिक्सिंग की खबरें सामने आ गईं। 16 मई 2013 को श्रीसंत और राजस्थान रॉयल्स के उनके दो अन्य साथी खिलाड़ी अजित चंदीला और अंकित चव्हाण गिरफ्तार हुए थे। आईपीएल-6 में स्पॉट फिक्सिंग के आरोप दिल्ली पुलिस ने इन तीनों को मुंबई में गिरफ्तार किया था।

दिल्ली पुलिस की चार्जशीट में इन खिलाड़ियों के साथ 39 दूसरे लोगों को भी आरोपी बनाया गया। दिल्ली पुलिस के पूर्व कमिश्नर नीरज कुमार ने दावा किया था कि ये खिलाड़ी न सिर्फ सट्टेबाजी, बल्कि स्पॉट फिक्सिंग में भी लिप्त थे।

10 जून 2013 को श्रीसंत, चंदीला और च्व्हाण को भी जमानत मिल गई। 25 जुलाई 2015 को आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग केस पटियाला हाउस कोर्ट ने सभी आरोपियों को बरी कर दिया।

कोर्ट ने श्रीसंत, अजित चंदीला और अंकित चव्हाण पर लगे पुलिस के सभी आरोपों को खारिज कर दिया। कोर्ट ने सबूतों के अभाव में आरोपियों को बरी किया था।



चर्चित खबरें