?> देश के जवानो के नाम है ये रेस्त्रां बुन्देलखण्ड का No.1 न्यूज़ चैनल । बुन्देलखण्ड न्यूज़ देश की सरहदो में अपने घर से दूर कड़कती धूप और खून जमा दे"/>

देश के जवानो के नाम है ये रेस्त्रां

देश की सरहदो में अपने घर से दूर कड़कती धूप और खून जमा देने वाली ठंड में जो हर पल अपने देश की हिफाजत करता है वो देश का जवान कभी कश्मीर में पत्थरबाजों, घात लगाए बैठे नक्सलियों की हिंसा का शिकार होता है लेकिन इन्ही सब के बीच समाज में कुछ ऐसे लोंग भी होते है जो जवानो का मनोबल बढ़ाने का काम भी करते है। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में ऐसे ही एक व्यक्ति हैं मनोज दूबे।

मनोज ऐसे शख्स हैं, जिनका सेना में जाने का सपना था जो पूरा न हो सका। लिहाजा उन्होंने अपने इस सपने को अलग तरीके से साकार करने का रास्ता खोज निकाला है। वे राजधानी रायपुर में एक रेस्त्रां चलाते हैं, जिसमें जवानों और उनके परिवार के सदस्यों को रियायती भोजन मुहैया कराया जाता है।

नीलकंठ नामक रेस्त्रां के सामने तिरंगे में सजे एक बैनर पर लिखा है 'राष्ट्रहित सर्वप्रथम'। रेस्त्रां में बिना वर्दी, लेकिन पहचान पत्र के साथ आने वाले जवानों को भोजन में 25 प्रतिशत की छूट दी जाती है, वहीं वर्दी पहने और पहचान पत्र के साथ आने वाले जवानों को 50 प्रतिशत की छूट दी जाती है। इतना ही नहीं, देश की रक्षा के लिए शहीद हुए जवानों के माता-पिता से भोजन के लिए कोई पैसा नहीं लिया जाता।