?> अब साई बाब के दरबार में भक्त पैदा करेंगे बिजली बुन्देलखण्ड का No.1 न्यूज़ चैनल । बुन्देलखण्ड न्यूज़ प्रसिद्ध साईंबाबा मंदि"/>

अब साई बाब के दरबार में भक्त पैदा करेंगे बिजली

प्रसिद्ध साईंबाबा मंदिर का कामकाज देखने वाला​ शिरडी ट्रस्ट बिजली पैदा करने के एक नए तरीके पर काम कर रहा है। इसमें श्रद्धालुओं के चलने से पैदा होने वाली ऊर्जा को बिजली में तब्दील किया जाएगा। साईंबाबा संस्थान ट्रस्ट (एसएसएसटी) के अध्यक्ष सुरेश हवारे ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि प्रस्तावित परियोजना के तहत मंदिर में ऊर्जा पैडल लगाए जाएंगे। यह मंदिर महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में स्थित है। औसतन 50,000 श्रद्धालु प्रतिदिन मंदिर में दर्शन करने आते हैं।

दरअसल श्री साईं बाबा संस्थान ट्रस्ट ने एक प्राइवेट कंपनी के साथ मिलकर फुट एनर्जी तैयार करने का फैसला लिया है। इस प्रोजेक्ट के तहत भक्तों के मार्ग में ऐसे इक्विपमेंट लगाए जाएंगे जिनके दबने से बिजली बनेगी। देश में पहली बार ऐसा प्रयोग किया जाएगा। बताया जा रहा है कि इससे 200 बल्ब, 50 पंखे चलाने लायक बिजली बनाई जा सकेगी। इसके अलावा यहां पैदा होने वाले कचरे से भी गैस और बिजली बनाई जाएगी।

साईंबाबा संस्थान ट्रस्ट (एसएसएसटी) के अध्यक्ष सुरेश हवारे ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि प्रस्तावित परियोजना के तहत मंदिर में ऊर्जा पैडल लगाए जाएंगे। यह मंदिर महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में स्थित है। करीब 50,000 श्रद्धालु हर दिन शिर्डी आते हैं। हम ऊर्जा पैडल लगाएंगे, चलने पर पैडल दबेंगे और फिर वापस सामान्य हो जाएंगे। इससे उर्जा पैदा होगी। चलने से पैदा होने वाली उर्जा बिजली में बदली जाएगी। इस तरह पैदा होने वाली बिजली से मंदिर क्षेत्र में बल्ब जलेंगे और पंखे चलेंगे।" उन्होंने कहा कि न्यास परियोजना के विभिन्न पहलुओं पर विचार कर रहा है।