< शिवराज मंत्रिमंडल में शामिल हो सकते है, बुन्देलखण्ड के चार से पांच विधायक Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News  भोपाल,

मध्यप्रदेश में एक बार "/>

शिवराज मंत्रिमंडल में शामिल हो सकते है, बुन्देलखण्ड के चार से पांच विधायक

 भोपाल,

मध्यप्रदेश में एक बार फिर भाजपा सत्ता संभाल रही है, पर शिवराज की इस बार ताजपोशी के बाद वह ऐसे इकलौते नेता होंगे जो प्रदेश के चौथी बार मुख्यमंत्री बनेंगे। सरकार के गठन के साथ ही नई सरकार में बुन्देलखण्ड की कितनी भागीदारी होगी, इस पर भी चर्चा शुरू हो गई है।

यह भी पढ़ें : COVID-19: आज रात 8 बजे देश को संबोधित करेंगे पीएम मोदी

पूर्व कांग्रेस सरकार में देखें तो बुन्देलखण्ड से तीन मंत्री थे, इस बार ऐसा माना जा रहा है चार से पांच मंत्री बुन्देलखण्ड को मिल सकते हैं। इनमें चार के नाम लगभग तय हैं, जबकि एक पर अभी विचार मंथन चल रहा है। इतना ही नहीं भाजपा इस बार सरकार गठन में उत्तरप्रदेश वाला फार्मूला अपना सकती है, इसके तहत दो उप मुख्यमंत्री भी बनाए जा सकते हैं, इनमें बुन्देलखण्ड के दतिया सीट से विधायक नरोत्तम मिश्रा व मालवा क्षेत्र से ज्योतिरादित्य सिंधिया के खासमखास तुलसी सिलावट को डिप्टी सीएम बनाया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : कोरोना के मरीजो में तेजी से इजाफा, अबतक 520 केस व 10 मौते

शिवराज को विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद मंत्रिमंडल को लेकर चर्चाएं तेज हो गईं हैं। इसमें बुन्देलखण्ड के दतिया सीट से नरोत्तम मिश्रा, सागर की रहली सीट से गोपाल भार्गव, सागर की खुरई सीट से भूपेंद्र सिंह सागर जिले की चुरखी विधानसभा सीट से सिंधिया समर्थक बागी विधायक गोविंद सिंह राजपूत को भी मंत्रिमंडल में शामिल किया जा सकता है। भाजपा सरकार में अल्प संख्यक वर्ग से बुन्देलखण्ड के दमोह जिले से विधायक रहे जयंत मलैया वित्त मंत्री रह चुके हैं, पर वह इस बार चुनाव हार गए हैं, इसके चलते इस कोटे से सागर के शैलेंद्र जैन व निवाड़ी क्षेत्र के विधायक अनिल जैन के नाम भी चर्चा में हैं।

इसके अलावा हरिशंकर खटीक का नाम भी चर्चा में है। अनिल जैन gशिgवराज के काफी नजदीकी माने जाते हैं, इससे यह कयास लगाया जा रहा है कि शिवराज निवाड़ी जिले को मंत्री के बदले मंत्री दे सकते हैं। पिछली सरकार में निवाड़ी जिले की पृथ्वीपुर विधानसभा से विधायक बृजेंद्र सिंह राठौर कैबिनेट मंत्री थे।

यह भी पढ़ें : घर पहुँचने से पहले स्वास्थ केन्द्र क्यों गये, फिल्म Tanashah के लीड एक्टर

 कांग्रेस सरकार में बुन्देलखण्ड से ही सागर से हर्ष यादव व सागर की चुरखी सीट से गोविंद सिंह मंत्री थे। गोविंद इस सरकार में भी रिपीट होंगे। शिवराज इस बार मुख्यमंत्री बनने पर प्रदेश के दो पूर्व मुख्यमंत्रियों का रिकॉर्ड तोड़ेंगे। वहीँ अर्जुन सिंह व श्यामाचरण शुक्ल मध्यप्रदेश के तीन-तीन बार सीएम रहे हैं।

अन्य खबर

चर्चित खबरें