< कोरोना के प्रति संवेदनशील नहीं है बाँदा के यह चिकित्सक Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News बांदा,

कोरोना वाय"/>

कोरोना के प्रति संवेदनशील नहीं है बाँदा के यह चिकित्सक

बांदा,

कोरोना वायरस से निपटने के लिए देश में केंद्र व राज्य सरकारें एडवाइजरी जारी कर स्वास्थ्य विभाग को पीड़ित मरीजों का गंभीरता से इलाज करने के लिए निर्देशित कर चुकी हैं। इसके बाद भी कुछ डॉक्टर इस जानलेवा बीमारी के प्रति न सिर्फ असंवेदनशील हैं बल्कि कोरोना जैसी घातक बीमारी के संभावित मरीज को भी मजाक बनाकर अस्पताल से चलता कर दिया ।

यह भी पढ़ें : मिल गई Corona Virus की दवा, सभी के लिए राहत भरी खबर
जी हां यह डॉक्टर है जिला चिकित्सालय के ईएमओ प्रदीप गुप्ता जिनके पास कल एक कोरोना से संभावित मरीज पहुंचा और चेकअप करने का अनुरोध किया इस पर डॉक्टर ने लापरवाही बरतते हुए कहा कि कल ओपीडी के समय अस्पताल आना और चेकअप करा लेना, लेकिन मरीज ने जब उनसे बार बार देखने का अनुरोध किया तब उन्होंने बिना टेंपरेचर लिए ही मरीज को बाहर की दवा लिख दी और कल ओपीडी में दिखाने की सलाह देकर अपना पल्ला झाड़ लिया।

उस समय डॉक्टर गुप्ता हल्दीराम की भेल पुरी का आनंद उठा रहे थे। इन्हें इस बात की जरा भी फिक्र नहीं थी कि अगर यह कोरोना  संक्रमित मरीज होगा तो कहां कहां घूमेगा और अन्य व्यक्तियों को संक्रमित करेगा।

यह भी पढ़ें बीमारी की चपेट में आ सकते हैं इंजीनियरिंग कॉलेज के 800 छात्र

बताते चलें कि यह वही डॉक्टर है जिन्होंने अभी कुछ दिन पहले ट्रामा सेंटर में इलाज कराने आए मरीज के तीमारदार को पुलिस के सामने ही पीट दिया था। उस समय भी डॉक्टर साहब अपने साथियों के साथ चाय नाश्ता का आनंद उठा रहे थे।

यह भी पढ़ें क्या कोरोना से बच पाएंगी वेश्याएं

इस संबंध में सीएमओ बांदा संतोष कुमार को जानकारी दी गई तो उन्होंने कहा कि यह मामला मेरे संज्ञान में नहीं है ,अगर ऐसा कुछ है तो प्रमाण दीजिए इस तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

अन्य खबर

चर्चित खबरें