< अरहर सम्मेलन में बोलें सासंद, जनपद में कृषि आधारित उद्योग लगाए जाने की आवश्यकता Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News बांदा,

बांदा जनपद में

अरहर सम्मेलन में बोलें सासंद, जनपद में कृषि आधारित उद्योग लगाए जाने की आवश्यकता

बांदा,

बांदा जनपद में कृषि आधारित उद्योग लगाए जाने की आवश्यकता है जिससे यहां के किसानों को उनके उत्पादों का सही मूल्य मिल सके। किसान रासायनिक खादों का प्रयोग छोड़कर जैविक खेती को अपनाए और अधिकारी व किसान मिलकर खेती को पुनः उत्तम बनाने के लिए प्रयास करें।

सांसद बांदा-चित्रकूट आर.के. सिंह पटेल ने उपरोक्त विचार वल्र्ड-पल्सेज-डे के अवसर पर कटरा कालींजर में आयोजित ‘‘अरहर सम्मेलन’’ को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि घाघ की कहावतें किसानों में बहुत ही लोकप्रिय रही हैं और घाघ ने खेती-किसानी को सबसे उत्तम बताया था किन्तु धीरे-धीरे खेती घाटे का सौदा हो गई थी और किसान के बेटे खेती न करके चैकीदारी का कार्य करने लगे थे। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री ने किसानों को किसान सम्मान निधि प्रदान कर किसानों के सम्मान को बढ़ाया है। इसके साथ ही न्यूनतम समर्थन मूल्य में किसानों की मजदूरी जोड़कर न्यूनतम समर्थन मूल्य वर्तमान सरकार द्वारा दिया जा रहा है। इसके लिए मैं प्रधानमंत्री को बधाई देता हूँ।

सांसद श्री पटेल ने कहा कि किसान मद्यपान तथा अन्य बुरी आदतों को छोड़कर नई-नई कृषि तकनीक को अपनाकर अपनी उत्पादकता बढ़ायें जिससे उनकी आमदनी बढ़ सके। उन्होंने कहा कि पहले कोदों, सांबा फसलें बुन्देलखण्ड क्षेत्र में बहुत होती थी, इन फसलों का उत्पादन बढ़ाए जाने की आवश्यकता है। विधायक नरैनी राजकरन कबीर ने अरहर सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस सम्मेलन में विभिन्न विशेषज्ञों द्वारा जो महत्वपूर्ण जानकारी दी गई है, उसे किसान अपनाए। उन्होंने कहा कि किसान बीजों का शोधन करके बुआई करें जिससे फसलों में कम से कम बीमारियां लगे।

उन्होंने किसान सम्मेलन में आए हुए सभी किसानों तथा विशेषज्ञों का स्वागत किया। अरहर सम्मेलन में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व सन्तोष बहादुर सिंह, अपर जिलाधिकारी न्यायिक संजय कुमार, उपजिलाधिकारी नरैनी वन्दिता श्रीवास्तव, उपजिलाधिकारी सदर सुरजीत सिंह, उपनिदेशक पंचायतीराज दिनेश सिंह, उपनिदेशक सूचना भूपेन्द्र सिंह यादव, जिला पंचायत राज अधिकारी संजय यादव, प्रभागीय वनाधिकारी संजय अग्रवाल तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी, जनप्रतिनिधि, किसान, एवं बुद्धिजीवी नागरिक उपस्थित रहे।  
 

अन्य खबर

चर्चित खबरें

Your Page has been visited    Times