< लाहौर टू शाहीन बाग का कनेक्शन Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News @सौरभ चन्द्र द्विवेदी, विश्लेषक

लाहौर टू शाहीन बाग का कनेक्शन

@सौरभ चन्द्र द्विवेदी, विश्लेषक

ये बड़ी सावधानी रखने का समय है। भारत के अंदर हिंसा फैलाने का पाकिस्तान समर्थित अंतर्राष्ट्रीय खतरनाक खेल चल रहा है। मणिशंकर अय्यर का वीडियो भी वायरल हो रहा है , लाहौर टू शाहीन बाग का शाही कनेक्शन भी सामने आ रहा है तो व्हाट्सएप पर संघ द्वारा बनाया हिन्दू राष्ट्र का हिन्दूस्तानी संविधान भी साजिश के तहत वायरल किया जा रहा है।

बड़े सुनियोजित तरीके से दलितों को शूद्र लिखकर उच्चकोटि की नागरिकता से बाहर रखा गया है , इनको वोट देने का अधिकार नहीं है। 

महिलाओं को बच्चे पैदा करने की बात कहकर अधिकार सीमित कर दिए गए हैं। इनकी राजनीतिक - सामाजिक भागेदारी परिवार तक रह जाएगी।  हास्यास्पद है कि इस प्रकार का पीडीएफ व्हाट्सएप पर वायरल हो रहा है। यह बड़े षड्यंत्र का इशारा है।

सीएए - एनआरसी और एनपीआर बहाना है बल्कि मसला जम्मू-कश्मीर का है। अब खुलकर फ्री कश्मीर के नारे और जम्मू-कश्मीर को पीछे ना छोड़ने की बातें होने लगी हैं।

खैर यह मुट्ठी भर लोग हैं। किन्तु बड़े खतरनाक हैं। इन्हें सबकुछ मुहैया कराया जा रहा है। यह सुनियोजित आंदोलन है , जो अब पाकिस्तान को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर लाभ पहुंचाने के दृष्टिकोण से साफ नजर आने लगा है। ,स्पष्ट यह भी हुआ कि फीस बढ़ोत्तरी बहाना है , बल्कि वामपदलों के इशारे पर वाम छात्र संगठनों इस खेल की शुरूआत की है। भारत हित के लिए लड़ाई छोटी नहीं है। जो लोग समर्थ - सक्षम हैं कृपया देश हित के लिए जागरूक करें। 

इस वक्त देश बचाना आवश्यक है। चूंकि मणिशंकर अय्यर के लाहौर जाने और शाहीन बाग पहुंचने के बाद अब कुछ धूमिल नहीं रह जाता है। 

( यह लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं ) 

चर्चित खबरें

Your Page has been visited    Times