< इजरायल की तर्ज पर बुन्देलखण्ड को विकसित करेगी योगी सरकार: आलोक कुमार Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News बांदा,

बांदा कृषि एवं प्रौद्य"/>

इजरायल की तर्ज पर बुन्देलखण्ड को विकसित करेगी योगी सरकार: आलोक कुमार

बांदा,

बांदा कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय बांदा में ‘‘बुन्देलखण्ड का विकास-इशूज,रणनीति एवं भावी दिशा’’ नामक विषय पर  आयोजित राष्ट्रीय स्तर की सेमिनार में विनिर्माण क्षेत्र की द्वितीय दिवस की कार्यशाला में प्रमुख सचिव उद्यम विकास आलोक कुमार ने बताया कि इजरायल और बुन्देलखण्ड में काफी समानताएं हैं। प्रदेश सरकार बुंदेलखंड को इजरायल की तर्ज पर विकसित करने के लिए प्रतिबद्ध है, और यह क्षेत्र मुख्यमंत्री जी की सर्वोच्च प्राथमिकता में हंै।

उन्होंने बताया कि हमारी सरकार उद्यमियों के साथ खड़ी है और हर तरह से उन्हें संरक्षण देने के लिए तैयार है।उन्होंने जानकारी दी कि व्यवसाय की सुगमता के दृष्टिगत हमारे विभाग द्वारा निवेश मित्र पोर्टल की शुरुआत की गई है, जिसमें उद्यमियों को सुविधा उपलब्ध कराने के लिए सभी विभागों को कंप्यूटरीकृत किया गया है। उन्होंने बताया कि अब निवेशकों और उद्यमियों को कहीं भी दौड़-भाग करने की जरूरत नहीं है, वे इस पोर्टल पर ऑनलाइन सभी कार्य सम्पन्न कर सकते हैं। ये भी बताया कि विभागीय कार्यों में पारदर्शिता लाने के लिए ई-टेंडरिंग की व्यवस्था की गई है।

उद्यमी जन इसी पोर्टल के माध्यम से जरूरी लाइसेंस एवं एनओसी समयवद्ध रूप से प्राप्त कर सकते हैं। इस मौके पर यूपीडा के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्रीचन्द्र वर्मा ने बताया कि बुंदेलखंड को विकास की मुख्य धारा से जोड़ने के लिए डिफेंस कॉरिडोर एवं बुन्देलखण्ड एक्सप्रेसवे बनाने की तैयारियां पूर्ण कर ली गयी है, यह दोनों प्रॉजेक्ट इस क्षेत्र के सभी जिलों को टच करेंगे, जिससे यहां का चहुमुंखी विकास किया जा सकेगा।

सेमिनार के विभिन्न सत्रों में केपीएमजी के प्रबंधक वैभव शुक्ला एवं बिजनेस डेवलपमेंट के निदेशक गौरव पिलानियां ने ईज ऑफ डूइंग बिजनेस, यूपीपीसीबी के सदस्य प्रदीप शर्मा ने सस्टेनेबल डेवेलपमेंट एवं फॉरेस्ट क्लेरेंस प्रोसीजर के बारे में विस्तृत जानकारी दी। इस दौरान एमकेयू के प्रोफेसर राजेन्द्र गुप्ता ने एरोस्पेस सेक्टर की संभावनाओं  तथा दयाल ग्रुप के निदेशक अंकित गुप्ता ने मेंटिनेंस एंड रिपेरिंग, फूड प्रोसेसिंग तथा इको-टूरिज्म एवं फिल्म मेकिंग में इंवेस्टमेन्ट की संभावनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए सरकार के प्रयासों की सराहना की। इस दौरान राज्यमंत्री मनोहर लाल उर्फ मन्नू कोरी एवं चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय ने भी अपनी उपस्थिति से सेमिनार सत्र को गौरवान्वित किया।

अन्य खबर

चर्चित खबरें

Your Page has been visited    Times