< बुन्देलखण्ड विकास का रोडमैप तैयार करने को कल शुरू होगा राष्ट्रीय सेमिनार Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News बांदा,

इसम"/>

बुन्देलखण्ड विकास का रोडमैप तैयार करने को कल शुरू होगा राष्ट्रीय सेमिनार

बांदा,

इसमें भाग लेंगे प्रदेश के एक दर्जन मंत्री

बुन्देलखण्ड विकास बोर्ड के तत्वाधान में आयोजित होने वाले राष्ट्रीय सेमिनार में 10 व 11 जनवरी को बांदा कृषि विश्वविद्यालय में बुंदेलखंड में कृषि अनुसंधान, विकास ,जल संसाधन, अन्ना प्रथा समस्या का समाधान और औद्योगिक विकास के लिए रोडमैप तैयार करने के लिए राष्ट्रीय सेमिनार होगा। इसमें प्रदेश सरकार के एक दर्जन मंत्रियों, दो केंद्रीय मंत्रियों के अलावा विभिन्न विभागों के प्रदेश व राष्ट्रीय स्तरीय अधिकारियों का जमावड़ा रहेगा।

सेमिनार में यह मंत्री भाग लेंगे
प्रदेश के कृषि कृषि, शिक्षा मंत्री सूर्य प्रताप शाही, दुग्ध पशुधन, मत्स्य मंत्री लक्ष्मी नारायण चैधरी ,उद्यान व खाद्य प्रसंस्करण मंत्री श्रीराम चैहान , ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शमार्, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महानाश् खादी रेशम वस्त्र उद्योग मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह, आवास एवं शहरी नियोजन मंत्री आशुतोष टंडन ,चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री ,महिला कल्याण एवं बाल विकास मंत्री व जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह के अलावा प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या भाग लेंगे ।इनके अलावा उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह यूपीडा उत्तर प्रदेश, नीति आयोग भारत सरकार अवनीश अवस्थी,अपर मुख्य सचिव नीतिन रमेश गोकर्ण ,प्रमुख सचिव अध्यक्ष ऊर्जा अरविंद कुमार, अपर मुख्य सचिव राजस्व रेणुका कुमार, सीईओ यूपीएस अनिल गर्ग, प्रमुख सचिव औद्योगिक विकास आलोक कुमार मैनेजिंग डायरेक्टर पिकअप उत्तर प्रदेश सुश्री सुजाता शर्मा, आशीष तिवारी सदस्य सचिव उत्तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन ,आलोक टंडन आयुक्त अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास उत्तर प्रदेश ,नवनीत सहगल प्रमुख सचिव खादी, गौरव दयाल निदेशक उद्योग उत्तर प्रदेश, कुणाल सिल्कू मिशन डायरेक्टर यूपी मिशन, रमा रमण अपर मुख्य सचिव रेशम वस्त्र उद्योग, प्रमुख सचिव महिला कल्याण एवं बाल विकास प्रमुख ,सचिव शक्ति उत्तर प्रदेश की विशेष उपनिदेशक सी ए डी ए राजेंद्र प्रताप ,निदेशक भूगर्भ उत्तर प्रदेश रिमोट सेंसिंग वीके उपाध्याय, अपर निदेशक मनरेगा योगेश कुमार सहित बड़ी संख्या में अधिकारियों को आमंत्रित किया गया है ।

प्रदेश व राष्ट्रीय स्तर के सरकारी अफसर भी रहेंगे मौजूद


जिम्मेदारी
सेमिनार को सफल बनाने के लिए अलग अलग समितियां बनाई गई हैं इनमें उच्च स्तरीय प्रशासनिक समिति में अपर जिला अधिकारी न्यायिक संजय कुमार ,सिटी मजिस्ट्रेट प्रदीप कुमार,नोडल अधिकारी कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय नरेंद्र सिंहं मुख्यमंत्री जी के शुभारंभ कार्यक्रम समापन हेतु स्थल का चयन उप समिति में अपर जिलाधिकारी ,सिटी मजिस्ट्रेट व  नरेंद्र सिंह शामिल है।

इसी तरह प्रतिभागियों कोे खानपान व प्रोटोकॉल की व्यवस्था हेतु बनाई गई उप समिति में सिटी मजिस्ट्रेट प्रदीप कुमार शामिल हैं ।इसी तरह अपनी कि पत्रों के संचालक लंच जलपान के लिए बनाई गई उप समिति में जिला खाद्य विपणन अधिकारी गोविंद कुमार, जिला पूर्ति अधिकारी राजीव तिवारी, जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी बांदा अभिजीत को शामिल किया गया। इसी तरह अफसरों की ड्यूटी से संबंधित उप समिति में संजीव कुमार बघेल जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी को जिम्मेदारी दी गई है ।मीडिया की व्यवस्था हेतु उप निदेशक सूचना चित्रकूट मंडल भूपेंद्र सिंह यादव को जिम्मेदारी दी गई है।

इन विषयों पर होगा मंथन
राष्ट्रीय सेमिनार में बुंदेलखंड का रोड मैप तैयार करने के लिए अलग अलग 5 सेक्टर बनाए गए हैं। इनमें विभिन्न विषयों पर अलग-अलग सत्र होंगे जिस पर संबंधित विभाग के अधिकारी व विशेषज्ञ चर्चा करेंगे। इनमें पानी का विकास, चुनौती  विषय पर 45 सेशन होंगे और इसमें 100 प्रतिभागी हिस्सा लेंगे।इनमें मुख्य रूप से सतही जल प्रबंधन और स्थिरता पर मुख्य वक्ता जनशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह होंगे ।केन बेतवा प्रोजेक्ट पर जगदीश सिंह सीए बेतवा प्रोजेक्ट, कृत्रिम बारिश के संबंध में इंजीनियर नवीन कपूर डिप्टी डायरेक्टर आईआईटी कानपुर अपने विचार व्यक्त करेंगे। भूजल क्वालिटी, गुणवत्ता के बारे में रूरल डेवलपमेंट मिशन डायरेक्टर नमामि गंगे अनुराग श्रीवास्तव विचार व्यक्त करेंगे।

इसी तरह जल संसाधन प्रबंधन जल उपयोग क्षमता और शहरी विकास के विषय में शहरी विकास मंत्री आशुतोष टंडन व वित्त संस्थान की भूमिका पर अखिल कुमार ज्वाइंट सेक्रेट्री  विचार व्यक्त करेंग। कार्यक्रम के अंत में महेंद्र सिंह जलशक्ति मंत्री सभी के साथ  ग्रुप डिस्कशन होगा।  टेक्निकल सत्र में बुंदेलखंड विकास मुद्दे रणनीति और आगे बढ़ने का रास्ता पर चर्चा होगी । इसमें औद्योगिक विकास व ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा गैर पारंपरिक ऊर्जा पर, सूचना एवं लघु उद्योग विषय में सिद्धार्थ नाथ सिंह,  स्मार्ट सिटी एंड हाउसिंग पर आशुतोष टंडन  आवास एवं शहरी विकास मंत्री, बुंदेलखंड एक्सप्रेस व डिफेंस कॉरिडोर पर अवनीश कुमार अवस्थी सीईओ यूपीडा,  खनन व खनिज विषय में डायरेक्टर खनिज रोशन जैकब भाग। लेंगी। इसके अलावा इसमें सोमनाथ चंदेल अतिरिक्त महानिदेशक जियोलॉजिकल सर्वे आफ इंडिया भाग लेंगे।

सतत विकास उद्योग में आलोक कुमार मुख्य सचिव आईआईटीडी अपने विचार व्यक्त करेंगे ।इसी सेमिनार में कृषि पर विशेष फोकस रहेगा जिसमें अन्ना प्रथा पशुधन, डेयरी, मछली पालन, मुर्गी पालन इत्यादि मामलों में चर्चा होगी ।इस सत्र की अध्यक्षता कृषि शिक्षा एवं अनुसंधान मंत्री सूर्य प्रताप शाही करेंगे। इसी तरह बुंदेलखंड में कृषकों का परिवर्तन बेहतर तकनीक के हस्तक्षेप के साथ विषय पर डॉक्टर मंगलराम कार्यकारी सचिव कृषि अनुसंधान एवं शिक्षा आजीविका के विविध करण और मूल्यवर्धन विषय पर बागवानी, खाद्य प्रसंस्करण मंत्री उत्तर प्रदेश श्री राम चैहान वक्ता होंगे ।तकनीकी विकास में एसके मल्होत्रा कमिश्नर ,कृषि जलवायु परिवर्तन का प्रभाव और गांव का विकास विषय पर एके जोशी अंतर्राष्ट्रीय मक्का एवं गेहूं सुधार केंद्र के निदेशक काठमांडू अपनी राय व्यक्त करेंगे।

 

अन्य खबर

चर्चित खबरें

Your Page has been visited    Times