< चित्रकूट के नगर निगम बनने के आसार खत्म, होगा सीमा विस्तार Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News संदीप रिछारिया, चित्रकूट<"/>

चित्रकूट के नगर निगम बनने के आसार खत्म, होगा सीमा विस्तार

संदीप रिछारिया, चित्रकूट

दुख भरी खबर है, प्रधानों का विरोध होने की आशंका के चलते प्रशासन ने चित्रकूट को नगर निगम बनाने के प्रस्ताव से अपने हाथ पीछे खींच लिए हैं। अब केवल नगर पालिका की सीमा का विस्तार होगा। वर्तमान 25 वार्डों से बढकर 45 से 50 वार्ड हो सकते हैं।

नगर निगम बनाने के प्रस्ताव पर फंसा पेंच


पूर्व में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या की तर्ज पर चित्रकूटधाम कर्वी की नगर पालिका का विस्तार कर नगर निगम बनाए जाने की मंशा से प्रस्ताव मंगाने के लिए कहा था। उनके आदेश पर नगर पालिका के अधिकारियों ने डीएम के माध्यम से दोबार सीमा विस्तार का पूरा खाका खींचकर प्रस्ताव भेजा। बताया जाता है कि नगर निगम की आबादी लगभग 3 लाख होनी चाहिए।

केवल कर्वी से सीतापुर तक के गांव व आस पास का लिया जाएगा एरिया

इस आबादी को पूरा करने के लिए अधिकारियों ने पहाडी से लेकर भरतकूप व भौंरी तक के गांवों को नगर निगम का हिस्सा बनाने का प्रस्ताव कर दिया था। लेकिन अगर इस प्रस्ताव को मान लिया जाता तो जिले की लगभग 100 ग्राम पंचायतें समाप्त हो जातीं। जिससे जिले में होने वाले गांवों का मानक पूरा न होता। दूसरा इसका कारण आर्थिक भी बताया जाता है।

-प्रधानों के विरोध के चलते मामला टलने के आसार

ग्राम प्रधान के पास वित्तीय अधिकार होते हैं। जबकि सभासद या पार्षद के पास वित्तीय अधिकार नहीं होते। इस बात को लेकर संशय है कि अगर नगर निगम को लेकर गांवों को शामिल किया गया तो प्रधान विरोध भी कर सकते हैं।
गुरूवार को लखनउ की बैठक में मुख्य सचिव ने चित्रकूट को नगर निगम बनाने के प्रस्ताव पर चर्चा की थी, लेकिन जिलाधिकारी द्वारा वास्तविकता से अवगत कराने के बाद इसे सीमा विस्तार में बदलने की बात कही। जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय ने बताया कि मुख्य सचिव से बातचीत के बाद अब नए सिरे से सीमा विस्तार का प्रस्ताव भेजा जाएगा।

अन्य खबर

चर्चित खबरें

Your Page has been visited    Times