< धर्म नगरी के विकास के लिए सरकार ने बढ़ाये कदम, मुख्य सचिव ने दिये निर्देश Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News @सन्दीप रिछारिया

धर्म नगरी के विकास के लिए सरकार ने बढ़ाये कदम, मुख्य सचिव ने दिये निर्देश

@सन्दीप रिछारिया

लखनऊ : मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने आज लोक भवन स्थित अपने  कार्यालय सभागार में चित्रकूट में पर्यटकों एवं श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधायें उपलब्ध कराने हेतु विभागीय अधिकारियों की बैठक कर आवश्यक निर्देश दिये हैं कि चित्रकूट को देश के सर्वोत्तम पर्यटन केन्द्रों के रूप में विकसित किये जाने हेतु आवश्यक कार्यवाहियाँ प्राथमिकता से सुनिश्चित कराईं जायें। उन्होंने कहा कि तीर्थ यात्रियों की सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए धार्मिक एवं पर्यटन क्षेत्र में बनी सड़कों की मरम्मत का कार्य प्राथमिकता से कराया जाये। मुख्य सचिव तिवारी ने कहा कि सम्बन्धित मुख्य अभियंता एवं अधीक्षण अभियंता स्वयं आगामी एक सप्ताह में सड़कों का स्थलीय निरीक्षण कर आवश्यकतानुसार मरम्मत का कार्य गुणवत्ता के साथ करायें।

उन्होंने कतिपय प्रकरणों में बिजली के बिल में संशोधन की कार्यवाही जिले के जिलाधिकारी द्वारा दिये गये निर्देशों के बावजूद भी विद्युत विभाग के अभियंता द्वारा कोई रूचि न लेकर नियमानुसार निस्तारण न किये जाने की जानकारी मिलने पर निर्देश दिये हैं अभियंता का स्पष्टीकरण प्राप्त कर कार्यवाही सुनिश्चित की जाये। चित्रकूट के धार्मिक एवं पर्यटन को दृष्टिगत रखते हुए क्षेत्र में ठहरने की समुचित व्यवस्था हेतु होटल स्थापित करने के लिए उद्यमियों को प्रोत्साहित करने पर बल दिया।

मुख्य सचिव ने पर्यटन एवं विकास को बढ़ावा देने हेतु चित्रकूट विकास बोर्ड की स्थापना कराये जाने की कार्यवाहियाँ प्राथमिकता से सुनिश्चित कराई जायें। उन्होंने चित्रकूट एवं उसके आस-पास के नगरीय क्षेत्रों एवं कस्बों को जोड़ते हुए एक नगर निगम की स्थापना पर विचार-विमर्श कर अग्रेत्तर कार्यवाही कराने एवं चित्रकूट धार्मिक स्थल के सड़कों के किनारे इण्टर लाॅकिंग तथा ड्रेनेज का कार्य गुणवत्ता सहित नियत समय में पूर्ण करें। श्री तिवारी ने चित्रकूट के महत्वपूर्ण स्थानों पर बिजली के खुले तार बाहर लगाये जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देश दिये हैं कि यथाशीघ्र तारों को अण्डर ग्राउण्ड कराया जाये।

श्री तिवारी ने पर्यटन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि चित्रकूट के आस-पास के ऐतिहासिक एवं धार्मिक स्थलों राजापुर, लालापुर आदि का भी सौंदर्यीकरण तथा लक्ष्मण पहाड़ी को विकसित करने की कार्य योजना बनाई जाये साथ ही पर्यटन विभाग द्वारा कराये जाने वाले कार्यों में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाये। चित्रकूट के मुख्य पर्यटन स्थलों पर श्रद्धालुओं की सुविधा को  दृष्टिगत रखते हुए वाहनों की पार्किंग व्यवस्थायें कराने के निर्देश दिये। उन्होंने सड़कों पर हाईलोजन लाइटों के स्थान पर एल0ई0डी0 लाईट लगाने के भी निर्देश दिये।

मुख्य सचिव तिवारी ने मंदाकिनी नदी की सफाई नियमित रूप से कराने निर्मित रोप के नीचे हरियाली विकसित व रामघाट का विस्तार कराने के साथ-साथ चित्रकूट धार्मिक स्थल को तुलसीवन के रूप में प्राकृतिक माहौल में विकसित कराने के भी निर्देश दिये साथ ही भगवान लक्ष्मण जी का ओपेन म्यूजियम विकसित करने के साथ-साथ साउण्ड एण्ड लाईट-शो का क्रियान्वयन कराने के भी निर्देश दिये।

बैठक में प्रमुख सचिव पर्यटन, श्री जितेन्द्र कुमार, मण्डलायुक्त एवं जिलाधिकारी चित्रकूट सहित सम्बंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

अन्य खबर

चर्चित खबरें

Your Page has been visited    Times