< निराशावादी हैं तो हो जाएं सावधान! ऐसे हो सकता है आपको नुकसान Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News आशावादी होना जीवन के लिए बेहद जरूरी है। एक नए शोध में बताया गया ह"/>

निराशावादी हैं तो हो जाएं सावधान! ऐसे हो सकता है आपको नुकसान

आशावादी होना जीवन के लिए बेहद जरूरी है। एक नए शोध में बताया गया है कि अगर आप आशावादी हैं तो आपको बेहतर नींद आती है। आप लंबे वक्त तक नींद का लुत्फ उठाते हैं।  वहीं, आपकी निराशावादी सोच आपके नींद में तो खलल डालती ही है, आपको अनिद्रा जैसी बीमारी भी दे सकती है।

इसलिए, जीवन में हर परिस्थिति में आशावादी बन रहें ताकि आपकी सकारात्मक सोच दुनिया को खुशमिजाजी दे सकें। इस शोध का कहना है कि जो लोग आशावादी होते हैं, वे अच्छी और भरपूर नींद लेते हैं।

और क्या कहता है अध्ययन? इस अध्ययन का कहना है कि 78 फीसदी लोगों ने बताया कि उनके आशावादी रवैये की वजह से उनको अच्छी नींद आती है। वह अवसाद से दूर रहते हैं और हर रोज सात से नौ घंटे की भरपूर नींद ले पाते हैं। वहीं, निराशावादी लोग अपने नकारात्मक ख्यालों की वजह से अच्छी नींद नहीं ले पाते।

ऐसे लोगों को अनिद्रा की बीमारी हो जाती है। 75 फीसदी लोगों को नकारात्मक और निराशावादी सोच की वजह से अनिद्रा होती है और दिन के वक्त नींद आती है। अध्ययन में इस बात की जानकारी दी गई है।इस अध्ययन में यह भी कहा गया है कि आशावादी होने से आपका अवसाद भी दूर होता है।

 यह अध्ययन विहेवियरल मेडीसिन जर्नल में प्रकाशित हुआ है और इस अध्ययन में 32 से 51 साल की उम्र के 3,500 लोगों ने हिस्सा लिया। आपको बता दें कि नेशनल स्लिप फाउंडेशन का भी कहना है कि हर व्यक्ति को रोज सात से नौ घंटे की नींद जरूर लेनी चाहिए।

हालांकि आशावादी होने से सिर्फ नींद ही अच्छी नहीं आती बल्कि आपका रिश्ता भी सही रहता है। अगर आप रिलेशनशिप में हैं तो आशावादी रवैया आपके रिश्ते को और ज्यादा मजबूत बना देता है। इसलिए सिर्फ स्वास्थ्य के लिए ही नहीं बल्कि सामाजिकता के लिए भी आशावादी होना बेहद जरूरी है।
 

अन्य खबर

चर्चित खबरें

Your Page has been visited    Times