< साधारण आदमी से अपनी पहचान ढूंढ़तीं गुलज़ार की कविताएं... Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News गुलज़ार आज के हरदिल अज़ीज़ लेखक हैं जिनके लिखे हुए को पढ़कर मन क"/>

साधारण आदमी से अपनी पहचान ढूंढ़तीं गुलज़ार की कविताएं...

गुलज़ार आज के हरदिल अज़ीज़ लेखक हैं जिनके लिखे हुए को पढ़कर मन के किसी कोने में दबे हुए एहसास भी बाहर आ जाते हैं। गहरी बातों को सीधे-सपाट शब्दों में कहने वाले गुलज़ार अपनी शख़्सियत का तर्जुमा अपने शब्दों में कर देते हैं।

हमेशा एक समान सादा कपड़ों में नज़र आने वाले गुलज़ार अपने भीतर किसी शब्दकोश की विविधता रखे हुए हैं। उनकी कलम जिस तेजी से हिन्दी के पन्नों को पूरा कर देती है उतनी ही तीव्रता से उर्दू के कागज़ों को भी भर देती है। 

यार जुलाहे : यतीन्द्र मिश्र ने किताब 'यार जुलाहे' में गुलज़ार की इसी शख़्सियत को बहुत खूबसूरती से बयां किया है। यतीन्द्र मिश्र खुद भी कवि और सम्पादक हैं जिनकी कलाओं में गहरी रुचि रही है। उनकी कई पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं जिनमें शास्त्रीय गायिका गिरिजा देवी पर लिखी पुस्तक भी शामिल है। पढ़िए क्या लिखा है यतीन्द्र जी ने
आओ फिर नज़्म कहें 


फिर किसी दर्द को सहला के सुजा लें आंखें 
फिर किसी दुखती हुई रह से छुआ दें नश्तर
या फिर किसी भूली हुई राह पे मुड़ कर इक बार 
नाम ले कर किसी हमनाम को आवाज़ ही दे लें

यार जुलाहे : उर्दू और हिन्दी की दहलीज़ पर खड़े हुए शायर और गीतकार गुलज़ार का तआरुफ़ ही यही है कि वे अपनी शायरी और नज़्मों को थोड़ा हिचकते हुए हिन्दी में 'संग्रह-निकालना' कहते हैं। 'यार जुलाहे' गुलज़ार की रचनात्मकता और अपने ढंग से ईजाद की हुई उर्दू और हिन्दी के मिश्रण से बनी उनकी शायरी या कविताई का सुन्दर नमूना है।

एक अनूठे ढंग की रूमानियत और बेगानेपन के मिश्रण के बावजूद गुलज़ार की कविताएं साधारण आदमी से संवाद में अपनी पहचान ढूंढ़ती हैं। यही बात उनकी शायरी में ऐसा रंग भरती है, जो हिन्दुस्तानी जुबान में नज़्म लिखने वाले अन्य समकालीनों से उन्हें बिल्कुल अलग करती है।

एक हद तक हम यह बात आसानी से कह सकते हैं कि निहायत साधारण जीवन जीने वाले समाज की चौखट पर जा कर गुलज़ार की कविता अपनी शिखर पाती है। यह अपनत्व और उत्कर्ष, गुलज़ार की पूरी ज़िन्दग़ी और उनके अनेक अन्य कार्यों में आसानी से लक्षित की जा सकती है।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें

Your Page has been visited    Times