< बुमराह का लंबे समय तक फिट रहना कठिन :   फेरोस  Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News

बुमराह का लंबे समय तक फिट रहना कठिन :   फेरोस 

अजीब एक्शन से चोटिल होने की आशंका ज्यादा  :  ग्लोस्टर

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह अपने अजीब गेंदबाजी एक्शन के कारण बल्लेबाजों के लिए एक रहस्य बने हुए हैं। वहीं दूसरी ओर शरीर विज्ञान के विशेषज्ञ डॉक्टर साइमन फेरोस के अनुसार बुमराह का गेंदबाजी एक्शन जिस तरह का है, उससे उनके पीठ के निचले हिस्से में चोट की आशंका बढ़ जाती है। फेरोस और मशहूर फिजियो जॉन ग्लोस्टर ने बुमराह के गेंदबाजी एक्शन का अध्ययन करने के बाद यह बात कही है।

फेरोस ने कहा, ‘‘बुमराह फ्रंट फुट की लाइन के बाहर गेंद को रिलीज करता है। इसका मतलब है कि वह गेंद को ‘पुश' कर सकता है। आमतौर पर इससे दायें हाथ के बल्लेबाज को बेहतरीन इन स्विंग गेंद फेंकता है। '' उन्होंने कहा, ‘‘हालांकि, अगर वह 45 डिग्री से ज्यादा मोड़ता है तो मुझे लगता है कि वह कुछ मौकों पर ऐसा करता है जिससे उसे रीढ़ की हड्डी के निचले हिस्से में कुछ चोटों की समस्यायें हो सकती हैं।''

वहीं अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट जगत में से कई को लगता है कि बुमराह का लंबे समय तक बिना चोटिल हुए बिना रहना कठिन होगा हालांकि फेरोस और ग्लोस्टर ने यह भी कहा कि रीढ़ की हड्डी  के निचले हिस्से और कंधे के एक्शन के साथ उनके गेंद फेंकने के एक्शन को देखते हुए एक्शन सुरक्षित भी लगता है।     

ग्लोस्टर ने कहा कि उसका अनोखा एक्शन उसे लगातार यार्कर जैसी गेंदें फेंकने में सहायता करता है। इसी तरह श्रीलंका के लसिथ मलिंगा को खेलना भी अपने अनोखे एक्शन की वजह से ही कठिन हो जाता है। ग्लोस्टर ने बुमराह के एक्शन के अपने आकलन में कहा कि उनका शरीर एक बेहतरीन मशीन है। ग्लोस्टर साढ़े तीन साल तक भारतीय टीम के फिजियो भी रहे थे।
 

About the Reporter

  • ,

अन्य खबर

चर्चित खबरें

Your Page has been visited    Times