< अनमोल रिश्ते की डोर संभाले प्यार से Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News भारत में तलाक के मामलों में तेजी से वृद्धि हो रही है। 10 साल पहले ज"/>

अनमोल रिश्ते की डोर संभाले प्यार से

भारत में तलाक के मामलों में तेजी से वृद्धि हो रही है। 10 साल पहले जहां भारत में 1 हजार लोगों में 1 व्यक्ति तलाक लेता था, वहीं अब यह संख्या 1,000 पर 13 से ज्यादा हो गई है। तलाक याचिकाएं पहले से दोगुनी मात्रा में जमा हो रही हैं। वैसे तो कभी न कभी सभी एकदूसरे की आलोचना करते हैं पर पतिपत्नी के बीच यह आम बात है।

समस्या तब पैदा होती है जब आलोचना करने का तरीका इतना बुरा होता है कि चोट सीधे सामने वाले के दिल पर लगती है । रिश्ते बनाना बहुत सहज है पर उन्हें निभाना कठिन। जीवनसाथी के जीवन से जुड़े हर छोटेबड़े मौके पर उस के साथ खड़े रहें। पूरे उत्साह और प्रेम के साथ उस के हर दुखसुख के भागीदार बनें.किसी भी तरह का फैसला लेते वक्त या कोई भी महत्त्वपूर्ण काम करते समय जीवनसाथी को भूलें नहीं।

उस की सहमति अवश्य लें। पतिपत्नी के बीच तनाव लंबे समय तक कायम नहीं रहना चाहिए, जीवनसाथी आप की किसी बात से आहत है तो मीठे शब्दों का लेप जरूर लगाएं। एकदूसरे के साथ सामंजस्य बनाए रखें। कंप्रोमाइज करना सीखें.कई दफा पतिपत्नी के बीच का विवाद इतना गहरा हो जाता है कि पास आने के सारे रास्ते बंद हो जाते हैं। साथी स्वयं को अस्वीकृत महसूस करता है।

दोनों इस बारे में बात तो करते हैं पर कोई सकारात्मक समाधान नहीं निकाल पाते। हर वादविवाद के बाद वे और ज्यादा कुंठित महसूस करते हैं। जीवन में कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है जैसेकि कैरियर की चुनौतियां, सेहत के मामले, भविष्य को ले कर चिंताएं आदि. ये समस्याएं अकसर संबंध को प्रभावित करती हैं। इसलिए पतिपत्नी को पारस्परिक समझदारी और परिपक्वता के साथ इन का सामना करना चाहिए।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें