< जब जाम में फंसे थे मुस्लिम, नमाज के लिए हिंदुओं ने खोला शिव मंदिर Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News बुलंदशहर में जहां एक तरफ गोकशी को लेकर भड़की हिंसा ने सभी को चौंक"/>

जब जाम में फंसे थे मुस्लिम, नमाज के लिए हिंदुओं ने खोला शिव मंदिर

बुलंदशहर में जहां एक तरफ गोकशी को लेकर भड़की हिंसा ने सभी को चौंका दिया है। वहीं, बुलंदशहर में ही एक गांव ऐसा भी है जहां हिंदुओं ने मंदिर और उसकी धर्मशाला में मुस्लिमों को नमाज पढ़ने की इजाजत देकर एकता की मिसाल पेश की है। दरअसल, रविवार को बुलंदशहर के जैनपुर गांव में हिंदु समुदाय के लोगों ने मुस्लिम समुदाय के लोगों को दोपहर की नमाज पढ़ने के लिए शिव मंदिर में न सिर्फ जगह दिया बल्कि इसके लिए पूरे इंतजाम भी किए गए

मंदिर में नमाज पढ़ने करने की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। बता दें कि इन दिनों बुलंदशहर में मुस्लिम समाज के लोगों का बड़ा धार्मिक आयोजन तब्लीकी इज्तिमा चल रहा है। इसमें शामिल होने के लिए मुस्लिम समुदाय के लोग दूर-दूर से आ रहे हैं। रविवार को कुछ मुस्लिम जब जैनपुर गांव में शिव मंदिर के करीब पहुंचे तो जोहर (दोपहर) की नमाज का वक्त हो गया था।

लेकिन इज्तेमा में जाने वालों की इतनी भीड़ थी कि आगे तक जाम लगा हुआ था। जाम के चलते इज्तेमा वाली जगह पर जाकर नमाज पढ़ना मुश्किल था। ऐसे में नमाज अदा करने के लिए मुस्लिम समुदाय के लोगों को साफ जगह की जरूरत पड़ी। तब उन लोगों ने वहां के हिंदुओं से नमाज पढ़ने की इजाजत मांगी। गांव के प्रधान गंगा प्रसाद का कहना है कि हम सभी ने शिव मंदिर कैंपस में नमाज पढ़वाने का फैसला किया।

एक ग्रामीण सुरेंद्र ने बताया कि जितने भी लोग थे, सभी ने वहां नमाज पढ़ी। जैनपुर गांव में रहने वाले साहब सिंह वर्मा ने बताया कि पहले तो इस बारे में ज्यादा लोगों को जानकारी नहीं थी। लेकिन सोशल मीडिया पर मंदिर में नमाज अदा करने की कुछ फोटोज वायरल हो गईं। इसके बाद लोगों ने हिंदू-मुस्लिम एकता की इस नजीर की काफी तारीफ की।  उन्होंने कहा कि इससे समाज को बांटने वाले लोगों को सबक लेना चाहिये।  

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें