< ऐसा मंदिर जहां जाते ही इंसान पत्थर का हो जाता है .... Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News दुनिया अचरजों से  भरी पड़ी है आज हम एक ऐसे मंदिर ही मंदिर की चर्च"/>

ऐसा मंदिर जहां जाते ही इंसान पत्थर का हो जाता है ....

दुनिया अचरजों से  भरी पड़ी है आज हम एक ऐसे मंदिर ही मंदिर की चर्चा कर रहे हैं जहां शाम होते ही मंदिर के दरवाजे  बंद हो जाते है।  ये मंदिर राजस्थान के बाड़मेर से 30 कि.मी दूर किराड़ू नाम के गांव में स्थित है जो देशभर में फेमस है।  इस मंदिर की कहानी बड़ी विचित्र है। इस मंदिर के नाम पर ही गांव का नाम पड़ा है। 

सूत्रो की माने तो  11वी शताब्दी में किराड़ू परमार वंश राजधानी थी लेकिन अब इस जगह के चारों ओर सिवाय सन्नाटे के कुछ भी नही है जब भी किराड़ू की बात की जाती है तो क्षेत्र के रहने वाले लोगों के चेहरे पर दहशत पसर जाती है।  ऐसा माना जाता है कि किराड़ू मंदिर ऐतिहासिक श्रापित मंदिरों में से एक है। किराड़ू मंदिर के बारे में कई किस्से-कहानियां भी प्रचलित हैं और जो भी इस मंदिर की सच्चाई जानता है दाँतो तले उंगली लेता है।

क्षेत्र के रहवासी इस मंदिर के बारे में अपशकुनों और श्रापों की बातें बताते हैं। लोगों की माने तो इस मंदिर के बाहर एक बड़ा सा पत्थर रखा हुआ है। कहा जाता है कि ये पत्थर कोई असल पत्थर नहीं बल्कि एक कुम्हारिन है जो श्राप के कारण पत्थर बन गई। शाम होते ही इस मंदिर में सभी वास्तुकलाओं पर ताला लग जाता है और जैसे ही शाम होती है सभी इंसान इस मंदिर से दूर चले जाते हैं।

दरअसल ऐसा कहा जाता है कि जो भी इंसान सूरज ढलने के बाद इस मंदिर में रुकता है वो पत्थर बन जाता है। मंदिर की सच्चाई के बारे में जानने के लिए पैरानॉर्मल सोसाइटी ऑफ इंडिया ने भी मंदिर की बालकनी में घोस्ट मशीन यानी इलेक्ट्रो मैग्नेटिक फील्ड को मापने वाला उपकरण रखा था तो इसमें ये पाया गया कि इस मंदिर में इंसानों के अलावा दूसरी ताकत भी मौजूद है। पर  इसकी  नकारात्मक ऊर्जा के बारे में अब तक कोई पुख्ता सबूत नहीं मिल पाए है।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें