< आधार से बिचौलियों के दुरुपयोग को रोकने में मिली  कामयाबी Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News आधार में दर्ज आंकड़े न सिर्फ पूरी तरह से सुरक्षित हैं बल्कि इसकी"/>

आधार से बिचौलियों के दुरुपयोग को रोकने में मिली  कामयाबी

आधार में दर्ज आंकड़े न सिर्फ पूरी तरह से सुरक्षित हैं बल्कि इसकी वजह से गरीब कल्याण योजनाओं के लाभ में बिचौलियों के दुरुपयोग को रोकने में भी कामयाबी मिली है। सरकार ने विशिष्ट पहचान संख्या से जुड़े ‘आधार’ के तहत दर्ज बायोमीट्रिक डाटा की सुरक्षा पर उठ रही आशंकाओं को निराधार बताते हुए इसे पूरी तरह से सुरक्षित बताया है। सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने शुक्रवार को राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान आधार की उपयोगिता से जुड़े एक सवाल के जवाब में बताया कि जनकल्याण से जुड़ी विभिन्न योजनाओं का लाभ आधार के जरिए सीधे लाभार्थी के खाते में जमा होने के कारण बिचौलियों से होने वाले लगभग 90 हजार करोड़ रुपए के दुरुपयोग को रोका जा सका है।

प्रसाद ने बिचौलियों के चलते जनकल्याण योजनाओं के लाभ से गरीबों को होने वाले नुकसान को रोकने में मिली बड़ी उपलब्धि बताया। इसकी सुरक्षा से जुड़े सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि आधार से जुड़े डाटा के दुरुपयोग से जुड़ा एक भी मामला भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) के संज्ञान में नहीं आया है। प्रसाद ने कहा कि पहले आधार के ‘निराधार’ होने के आरोप लगते थे क्योंकि पहले यह किसी पुख्ता कानून से पुष्ट नहीं था। लेकिन अब सरकार ने आधार को संसद द्वारा पारित कानून से पुष्ट कार्ययोजना से लैस है। हाल ही में यूआईडीएआई के प्रमुख आरएस शर्मा के आधार के जरिए उनके बैंक खाते को हैक करने संबंधी मीडिया खबरों को खारिज करते हुए प्रसाद ने कहा कि यूआईडीएआई ने इस बारे में पहले ही बयान जारी कर हैकिंग के दावे को गलत करार दिया था।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें