< खाना की गुणवत्ता में सुधार के लिए कैटरिंग ठेकेदारों पर नकेल कसने की तैयारी  Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News ट्रेन में आईआरसीटी के मैनेजर तैनात होगी

खाना की गुणवत्ता में सुधार के लिए कैटरिंग ठेकेदारों पर नकेल कसने की तैयारी 

ट्रेन में आईआरसीटी के मैनेजर तैनात होगी

भारतीय रेलवे में मिलने वाला खाना हमेशा ही गुणवत्ता के मामले में खबर ही रहा है। रेलवे अब अपने खाने की गुणवत्ता को सुधारने के लिए कैटरिंग ठेकेदारों पर नकेल कसने की तैयार कर रही है। इसके लिए प्रत्येक ट्रेन में आईआरसीटी अपने मैनेजर तैनात करने जा रही है। ट्रेन की पेंट्रीकार से लेकर कोच में यात्रियों को खाना दिए जाने पर वेंडर-वेटर पर नजर रखेगा। खाने में किसी प्रकार की शिकायत होने पर यात्री सीधे मैनेजर से शिकायत कर सकते है। दोषी पाए जाने पर मैनेजर ठेकेदार पर त्वरित कार्रवाई कर सकते है। रेलवे की खानपान सेवा में सुधार के तहत इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म ने रेलवे बोर्ड से प्रत्येक ट्रेन में मैनेजर के लिए समर्पित बर्थ आवंटन की मांग की है। आईआरसीटीसी के इस प्रस्ताव पर बोर्ड ने दो जुलाई को मुहर लगा दी है। रेलवे बोर्ड ने सभी जोन के चीफ कॉमर्शियल मैनेजरों को जारी आदेश में कहा है कि नई खानपान नीति-2017 के तहत राजधानी एक्सप्रेस, शताब्दी, दुरंतो व पेंट्रीकार वाली मेल-एक्सप्रेस, सुपरफास्ट ट्रेनों में आईआरसीटीसी मैनेजर के लिए समर्पित बर्थ-सीट स्थायी रूप से बुक रहेगी।

किसी प्रकार यात्री की शिकायत मिलने पर मामले की जांच करेगा। इसके साथ ही कैटरिंग ठेकेदार अथवा स्टाफ की गलती होने पर मैनेजर त्वरित कार्रवाई करेगा। इसमें जुर्माना लगाने का अधिकार भी होगा। मैनेजर को अधिक शक्तियां दी गई है जिससे रेलवे के खानपान सेवा में गुणात्मक सुधार लाया जा सके। पेंट्रीकार से लेकर वेंडर-वेटर सभी वर्दी में होगा। उनकी नेम प्लेट भी होगी जिससे उनकी पहचान आसानी से हो सकेगी।

एसी-3,स्लीपर श्रेणी के कोच के शुरू में ही नीचे की बर्थ और शताब्दी में एसी चेयरकार में एक बर्थ मैनेजर के लिए स्थायी रूप से आवंटित होगी। आईआरसीटी मैनेजर अपने आईडी प्रूफ के साथ ट्रेन कैप्टन अथवा कंडक्टर को रिपोर्ट करेगा। इसके साथ ही उस स्टेशन मास्टर को बताना होगा कि उक्त ट्रेन में यात्रा कर रहा है। रेलवे बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आईआरसीटीसी का मैनेजर वर्दी में होगा और उस नेम प्लेट लगाना अनिवार्य होगा। मैनेजर पेंट्रीकार में खाद्य सामाग्री की जांच-निगरानी करेगा। इसके अलावा वेंडर-वेटर पर नजर रखेगा जिससे यात्रियों से तय रेट से अधिक कीमत नहीं वसूल सकेगा।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें