< बैंक का कर्ज व पुत्री की शादी की चिन्ता में किसान की मौत Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News दस जून को इलाहाबाद बैंक कर्मचारियों ने ऋण चुकाने की दी थ"/>

बैंक का कर्ज व पुत्री की शादी की चिन्ता में किसान की मौत

दस जून को इलाहाबाद बैंक कर्मचारियों ने ऋण चुकाने की दी थी धमकी

पीडित भाई ने थाने मे दी तहरीर

इलाहाबाद बैंक मेनेजर बेलाताल द्वारा किसान के घर जाकर जल्द किसान क्रेडिट कार्ड का पैसा जमा कराने अन्यथा कार्यवाही किये जाने की बात करने पर किसान सदमें में आ गया। पीडित को बैंक का कर्ज चुकाने तथा पुत्री की शादी की चिन्ता के चलते किसान की सदमें से मौत हो गई। जिसकी शिकायत पीडितो ने थाने में की।

प्राप्त जानकारी के अनुसार इलाहाबाद बैंक बेलाताल के मैनेजर दस जूनप 2018 को ग्राम बुधौरा में जाकर के खेत सिंह पुत्र भगवान दास राजपूत ग्राम बुधौरा थाना कुलपहाड़ को कहा कि जल्दी से किसान क्रेडिट कार्ड जमा करो वरना तुम्हारी जमीन नीलाम कर दूंगा। किसान ने अपनी पुत्री की शादी का हवाला देकर अनुनय विनय निवेदन करता रहा और अधिक समय की मोहलत मांगता रहा लेकिन इलाहाबाद बैंक मैनेजर ने धमका कर चले गए। तभी से किसान की तबियत बिगड़ने लगी और उनका इलाज के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बेलाताल लाते समय रास्ते में मृत्यु हो गयी। खेतसिंह के नाम इलाहाबाद बैंक बेलाताल में किसान क्रेडिट कार्ड संख्या 622731/35965 में 275000 रुपया का बना हुआ है एवम सहकारी समिति बेलाताल से 77680 रुपया का कर्ज बाकी है तथा पुत्री की शादी की तैयारी का दबाव होने के बाबजूद भी मैनेजर ने कड़े शब्दों में धमकी देने से उसकी मौत हो गई।

हरीसिंह ने कोतवाली कुलपहाड़ में प्रर्थना पत्र सौपकर कार्यवाही की मांग की है। जब इस सम्बंध में परसुराम वर्मा इलाहाबाद बैंक मैनेजर बेलाताल से मोबाइल फोन पर बात हुई तो उन्होंने कहा कि ग्राम बुधौरा में एनपीए भेड़ बकरी पशुपालन योजना खाताधारकों के घर घर गये थे। उन्होने कहा कि वह खेतसिंह के घर नही गया। खेतसिंह बड़ा काश्तकार था उसे किसान क्रेडिट कार्ड का छूट का लाभ नहीं मिल पाया जिस कारण मेरे खिलाफ साजिश रची जा रही है। पुलिस चैकी इंचार्ज विमल सिंह से इस सम्बंध में फोन पर वार्तालाप की गई तो उन्होंने बताया कि म्रतक के भाई  हरीसिंह पुत्र भगवानदास ग्राम बुधौरा ने प्रर्थनापत्र प्राप्त हुआ है जांच की जा रही है। जब इस सम्बंध में मृतक के भाई हरीसिंह से बात की गई तो उन्होंने बताया कि जब से भाई ने किसान क्रेडिट कार्ड बनवाया था तभी से सूखा पड़ रहा चुकाने में असमर्थ थे लड़की की शादी की टेन्शन रहती थी। उसी के चलते भार्ठ की मौत हुई है।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें

Your Page has been visited    Times