< समाज का विकास शिक्षा तथा संगठित होकर किया जा सकता है Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News कबीर दास जी मानवता के संत थे सत्संग से ही विवेक आता हेै स"/>

समाज का विकास शिक्षा तथा संगठित होकर किया जा सकता है

कबीर दास जी मानवता के संत थे सत्संग से ही विवेक आता हेै सत्य झूठ का फैसला  विवेक के द्वारा ही लिया जाता है।

संत किसी एक समाज के बंधन में नही बांधे जा सकते वह सभी समाज के कल्याण के लिये पैदा हांेते है उनका कार्य हर मानव मात्र का भला करना ही  मुख्य उदद्वेश होता है सैकडो वर्ष बाद महान संत अवतार लेते है इन्ही महान संतों में ंकबीर दास जी हूये है जिन्होने मानव कल्याण के लिये जन्म लिया तथा पूरा जीवन मानव कल्याण अर्पित किया उनके संदेश आज भी प्रसागिक है एक एक संदेश आत्म साथ करने पर मानव का जीवन बदल जाता है संसार में बहुत सारे सूर बीर पैदा हुये लेकिन कबीर मात्र एक ही अवतरित हूयंे जिन्होने समाज की दिशा को बदलने का कार्य किया उक्त आशय है कि सार गरभित विचार महा महिम राष्टपति राम नाथ कोबिंद के अग्रज भा्रता राम स्वरूप भारती ने पन्ना जिला मुख्यालय होटल सानवी लेंडमार्क में आयोजित कबीर महोत्सव कार्यक्रम को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित व्यक्त ेिकये तपश्चात उन्होने कहा कि मानव के दुख का सबसे बडा कारण मोह है मोह को सत्संग से ही भंग किया जा सकता है क्योकि सत्संग से ही मानव के अंदर विेवेक जाग्रत होता है और विवेक के द्वारा व्यक्ति सत्य झूठ का फैसला करता है उन्होने आगे कहा है कि कबीर दास जी जिस समय इस संसार में आये थे उसवक्त समाज में भयानक कुरूतिया जैसे उंच नीच छोटा बडा दुरा भाव फैली हुई थी इन तमाम कुरूतियों को दूर करने के लिये उन्होने समाज को अनेक संदेश दिया तथा समाज से आवाहान किया कि संसार में इंसानियत ही सबसे बडा धर्म है इंसान इंसानियत का तकाजा है वर्ना इंसान नही वह चलता फिरता जनाजा है श्री भारती ने आगे कहा कि पन्ना जिला धार्मिक पर्यटन के क्षेत्र में अव्वल है लेकिन यहा पर उघोग विकास होना जरूरी है जिससे लोगो को रोजगार के साधन उपलब्ध हो सके उन्होने कोरी समाज के लोगो को शिक्षा के प्रति जागरूक होकर  आगे बढने का संदेश दिया तथा कहा समाज उथान के लिये इस प्रकार  कार्यक्रम समय समय पर होते रहना चाहिये ।

तपश्चात काय्रकम की अध्यक्षता कर रहे कोली कोरी समाल के प्रदेश अध्यक्ष घनश्याम शेर ने संबोधित करते हूये कहा कि इतनी भारी संख्या में सदगुरू कबीर दास जी के अनुयायि उपस्थित हुूये है यह गौरव की बात है कि कबीर दास जी की वाणी के प्रत्येक शब्द में मानव कल्याण ेक अर्थ विघमान है उन्होने कहा  कि किसी भी समाज का उत्थान एंव विकास शिक्षा पर आधारित है इस लिये आज  ेके  समय पर शिक्षित हांेना अतिआवश्यक है  साथ ही समाज को संदेश देते हूये कहा कि संगठित होकर आगे बढे अपनी सही बात के लिये डटकर शक्ति के साथ लडै हमारा समाज गरीब है लेकिन हमे संगथन की शक्ति के साथ आगे बडना है तथा अपने अधिकारो की लडाई सरकार से लडकर लेना है सरकार की योजना का लाभ भी अपने समाज के लोगो को  दिलाना है कार्यक्रम को विश्ष्टि अतिथि के रूप मे उपसथित कन्हेया लाल ने कहा  कि जीवन में कुछ अच्छा करने का भाव कबीर दा जी ने जगाये हे उनका मुूल मंत्र पे्रम था प्रेम के द्वारा आप किसी ेस भी जीत सकते है ततपश्चात कार्यक्रम को संबोधित करते हूये बिधायक गुनौर महेन्द बागरी ने कहा कि समाज के उत्थान में कबीर दास जी जैसे महा न संतो का बहूत बडा योगदान है उन्होने कोरी समाज  की भी तारिफ करते हूये कहा कि यह समाज इस जिले ओगे बड रही है क्योकि इनका किसी  से कोई विवाद लडाई झगडा होता है और यह  समाज लगातार अच्छा कार्य करते हूये आगे बड रही है कार्यक्रम को समाज सेवी काग्रेसी नेता मनोज केशरवानी ने संबोधित करते हूये कहा कि वर्ग भ्ेाद जाती वेद को दूर करने में कबीर दास जी की महत्व पूर्व भूमिका रही हे उन्होने कोरी समाज सहित  सभी समाज के लोगो से समाज में फैली कुरीतिया म्रत्यू भेाज दहेज प्रथा आदि बंद करने का आवाहान किया ।

कार्यक्रम को मोहन लाल कुशवाहा ने कहा कि आगामी वर्ष में कबीर महोत्सव को नगर पालिेका तथा प्रशासन के सहयोग से मनाया जायेगा और इस के लिये नगर पालिेका द्वारा हर तरह का सहयोग किया जायेगा । ततपश्चात कार्यक्रम को विहिप मंत्री नरेन्द केशरी ने संबोधित करते हये कहा कि समाज को एक जुट होकर समाज में कार्य करना चाहिये तभी समाज का भला होगा । कार्यक्रम को पूर्व मंडी अध्यक्ष तथा काग्रेस नेता शिवजीत सिंह भैया राजा ने संबोधित करते हूये कहा कि पन्ना धार्मिक पर्यटन नगरी है यहां पर चारो धाम के मंदिर टाइगर रिर्जव एनएमडीसी मझंगवा हीरा खदान है पर्यटन की अपार संभावना है उसके बावजूद यहां का विकास अवरूद है इसके लिये समाज के सभी वर्गा को एक जुट होकर जिले की विकास की लडाई लडनी होगी ।

कार्यकम को पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष ब्रजेन्द्व बुदेला ने सबोधित करते हूये कहा जिले के विकास मे समाज के हर वर्ग की भागीदार आवश्यक है उन्होने कबीर दास जी को महान संत ज्ञान का पुरोधा बाताते हूये कहा उनके विचारो का अनुशरण करने वालो को जीवन सार्थक हो जाता  है तपश्चात कार्यक्रम को समज सेवी राम अवतार बबलू पाठक ने संबोधित करते हूये कहा कबीर दा जी सभी समाज के उनके उपदेशो को यदि 10 प्रतिशत भी कोई अनुशरण करता है तो उसका जीवन बइल सकता है संसार में मानव को अच्छी चीजे ग्रहण करना चाहिये तथा बुरी चीजो का त्याग करना चाहिये कार्यक्रम को नगर परिषद ककरहटी के अध्यक्ष शयाम बिहारी कोरी महिला नेत्री कल्पना सिंह चैहान  एंव जिला होमगार्ड कमान्डेन्ट के के नरोलिया ने भी संबोधित किया कार्यकम के पूर्व कार्यक्रम का शुभांरभ मा सरस्वती के चित्र पर माला अर्पण तथा दीप प्रर्जवलन से किया  गया ततपश्चात उपस्थित अतिथियो का माला अर्पण के साथ स्वागत किया गया सागर से आकशवाणी की टीम द्वारा संत कबीर का गीत प्रस्तुत किया गया तथा होनहार वालिका पदमावति कोरी के द्वारा कबीर दास जी के जीवन पर आधारित गीत प्रसतुत किया गया जिसमे उक्त वालिका ने उपस्थित अतिथियो का मंत्र मुगध कर दिया स्वागत भाषण कार्यकम के संयोजक लक्ष्मीनरायण चिरोल्या द्वारा दिया गया ततपशचात अभार प्रर्दशन कोरी समाज के अध्यक्ष गोरे लाल वर्मा ंएव पुरन कोरी द्वारा किया गया काय्रक्रम का सफल संचालन साहित्य कार लक्ष्मीनाराण द्वारा किया गया । कार्यक्रम मे भारी संख्या में लोगो की उपस्थिति रही । जिनमें डा आरके वर्मा डी सी कोरी बीडी अनुरागी सहित भारी संख्या मे लोगो की उपस्थिति रही ।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें