< सुस्त लोगों का आईक्यू लेवल होता है हाई Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News अमेरिका में हुए एक रिसर्च से मिलता है बल

सुस्त लोगों का आईक्यू लेवल होता है हाई

अमेरिका में हुए एक रिसर्च से मिलता है बल

अमेरिका में हुए एक रिसर्च से इस सोच को बल मिलता है कि जो लोग शारीरिक रूप से कम क्रियाशील होते हैं और विचारों में खोए रहते हैं, वह ज्यादा तेज होते हैं यानी उनका आईक्यू लेवल हाई होता है। फ्लोरिडा की गल्फ कोस्ट यूनिवर्सिटी में एक स्टडी की गई। इस स्टडी के लिए टॉड मैकएलरॉय के नेतृत्व में शोधकर्ताओं ने 30-30 छात्रों के दो ग्रुप को चुना। इसमें से एक ग्रुप में वैसे छात्र थे, जो ज्यादा विचारशील यानी सोच में डूबे रहने वाले थे। दूसरे ग्रुप में कम सोचने वाले छात्रों को रखा गया। अगले सात दिनों तक दोनों ग्रुप के छात्रों के कलाई घड़ी में एक डिवाइस लगा दी गई। इस डिवाइस से उनकी गतिविधियों और क्रियाशीलता के स्तर पर नजर रखी गई। ऐसा करने से इस संबंध में लगातार डेटा मिलता रहा कि वे शारीरिक रूप से कितने क्रियाशील हैं।

रिजल्ट्स में सामने आया कि हफ्ते के दौरान एक ग्रुप बहुत ही कम क्रियाशील था। यह ग्रुप विचारक छात्रों का था यानी जो ज्यादा सोच में डूबे रहते थे। दूसरी तरफ गैर विचारक छात्रों का ग्रुप काफी क्रियाशील था। हालांकि इस स्टडी में एक असाधारण बात भी देखी गई यानी वीकेंड के दौरान दोनों ग्रुप में कोई फर्क नहीं देखा गया। फिलहाल इसकी कोई व्याख्या नहीं की जा सकी है। इसके साथ ही विशेषज्ञों ने कम क्रियाशील रहने वाले ग्रुप को स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को लेकर चेताया भी है। उनका कहना है कि भले ही कम क्रियाशीलता, हाई आईक्यू लेवल की निशानी हो सकती है, लेकिन इससे स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं पैदा हो सकती हैं। इसलिए ऐसे लोगों को अपने स्वास्थ्य के स्तर को बेहतर बनाने पर भी ध्यान देना चाहिए। शोधकर्ताओं का मानना था कि निष्कर्ष से इस सोच को मजबूती मिलती है कि गैर विचारक बहुत जल्द बोर हो जाते हैं, इसलिए उनको शारीरिक गतिविधि से अपने समय को पूरा करना पड़ता है।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें