< देश के धनी मंदिर  Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News

देश के धनी मंदिर 

  देवी मंदिर, जम्मू
 हर वर्ष लाखों श्रद्धालु माता वैष्णो देवी की गुफा में दर्शन को पहुंचते हैं और पैसे और अन्य वस्तुएं दान में चढ़ाते हैं। एक अनुमान के मुताबिक उत्तर भारत के इस प्रमुख मंदिर की सालाना आमदनी 500 करोड़ रुपए है।
 

सिद्धिविनायक मंदिर, मुंबई

यहां रोजाना करीब 25 हजार रुपए से लेकर 2 लाख रुपए तक का चढ़ावा चढ़ता है। यहां पर काले पत्थर के बने हुए गणेश भगवान की मूर्ति पर सबसे ज्यादा दान चढ़ाया जाता है। ये मूर्ति करीब 200 साल पुरानी है! मंदिर की वार्षिक आमदनी 4करोड़ रुपए से 125 करोड़ रुपए के बीच है।


पद्मनाभस्वामी मंदिर, केरल

इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि त्रावणकोर राजघराने ने इस मंदिर पर सोने और कई कीमती जेवरों को चढ़ाया था। जिसके बाद यहां जेवर दान करने की मान्यता ने जन्म लिया। यहां ज्यादातर मूर्तियां सोने की बनी हुई है। कहते हैं यहां विष्णु भगवान की मूर्ति की कीमत 500 करोड़ रुपए है। यहां भी रोजाना लाखों का चढ़ावा आता है।
तिरुमाला तिरुपति वेंकटेश्वर मंदिर, आंध्र प्रदेश

इस मंदिर में रोजाना 60,000 भक्त आते हैं। लाखों के चढ़ावे के साथ यहां प्रसाद के लड्डू बेचकर सालाना करीब 75 करोड़ रुपए की आमदनी होती है। जबकि मंदिर को दान से साल भर में 650 करोड़ रुपए प्राप्त होते हैं। इसके अलावा मुंडन के बालों की बिक्री से भी मंदिर को अच्छी खासी रकम मिलती है।

 
साई बाबा धाम, 
यहां पर दुनिया भर से भक्तजन बाबा के दर्शन करने आते हैं। साल भर के चढ़ावे से 360 करोड़ रुपए की आमदनी होती है। यहां पर कुछ सालों पहले हीरे के दो हार भी दान पेटी से मिले थे।
 

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें