< बुन्देलखण्ड की तकदीर बदलेंगे योगी-मोदी: डा. महेन्द्र Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News विभागीय प्रदर्शनियों का किया अवलोकन, लाभार्थियों को बांट"/>

बुन्देलखण्ड की तकदीर बदलेंगे योगी-मोदी: डा. महेन्द्र

विभागीय प्रदर्शनियों का किया अवलोकन, लाभार्थियों को बांटे पम्प सेट, ट्रैक्टर 
ठेकेदार व सहायक अभियंता पर एफआईआर दर्ज करने के निर्देश
बिजली, पानी, आवास आदि योजनाओं की बिन्दुवार की समीक्षा

राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) ग्राम्य विकास, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य (एमओएस) डा महेन्द्र सिंह ने भाजपा सरकार के एक वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में राष्ट्रीय रामायण मेला में आयोजित लोक कल्याण मेला-प्रदर्शनी का उद्घाटन फीता काटकर किया।

उन्होंने विभिन्न विभागों की लगायी गई प्रदर्शनियों का अवलोकन किया। उन्होंने कृषि विभाग की योजनाओं के तहत आठ हार्सपावर के पम्पिंग सेट व 25 पाइप प्रति व्यक्ति में शिव प्रसाद पुत्र गिरधारी, सूरजपाल पुत्र दुक्खी, केशव पुत्र दुक्खी, रामकली पत्नी गुलजारी, राममूरत पुत्र सत्य नारायण को दिये। शिव नारायण पुत्र कुंजल प्रसाद ग्राम उड़की, सुनील कुमार पाण्डेय पुत्र ज्ञानचन्द्र ग्राम सिकरौ, केशव प्रसाद तिवारी पुत्र लक्ष्मी प्रसाद ग्राम रौली कल्याणपुर को ट्रेक्टर की चाबी सौंपी गई। इसके अलावा प्रदीप कुमार द्विवेदी पुत्र रामाकान्त द्विवेदी ग्राम भदेहदू को ट्रैक्टर एवं थ्रेशर प्रदान किया। रामायण मेला के सभागार में पत्रकारवार्त के दौरान मंत्री ने कहा कि सरकार ने एक साल में उपलब्धियों की नई मिशाल कायम की है। आजादी से लेकर अभी तक सरकार 86 लाख किसानों का कर्ज माफ कर 36 हजार करोड़ रूपये बैंको को दिया है। 24 जनवरी को स्थापना दिवस मनाया गया। जिसमें वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट में 25 करोड़ रूपये की योजना बनायी गई है। गन्ना किसानों 26.769 करोड़ का गन्ना भुगतान किया गया। 36.99 लाख मैट्रिक टन गेहूॅं की खरीद कर 6011.15 करोड़ का भुगतान जो गत वर्ष से लगभग 4.5 गुना अधिक है। 42.54 लाख मैट्रिक टन धान खरीद कर 6608 करोड़ रूपये का भुगतान किया गया। डीबीटी के माध्यम से 16.78 लाख किसानों के खाते में रूपया 249.21 करोड़ की धनराशि स्थानान्तरित की गई। उन्होंने कहा कि बुन्देलखण्ड की तकदीर बदलने के लिए योगी व मोदी सरकार दृढ़ संकल्प के साथ आगे बढ़ रहे हैं।

इसके पश्चात् कलेक्ट्रेट सभागार में अधिकारियों के साथ विकास, राजस्व कर करेत्तर की बैठक की। उन्होंने परिवहन, आबाकरी, मनोरंजन, विद्युत देय, मुख्य देय की समीक्षा में पिछले वित्त वर्ष से अच्छी प्रगति पायी, परन्तु वाणिज्य कर की स्थिति असंतोषजनक रही। जिसमें बताया गया कि जीएसटी.लागू होने के कारण लक्ष्य पूरा नहीं हुआ है। जिसे पूरा करने के निर्देश दिये। पांच साल से जो लम्बित वाद हैं उनके निस्तारण को बैठक कराने और तत्काल निस्तारण को कहा। आय, जाति, निवास, सम्पूर्ण समाधान दिवस में निस्तारित किये जायें। लेखपाल व सचिवों को क्षेत्रों में रोस्टर के हिसाब से भेजें। यदि कोई नहीं जाता है तो कार्यवाही करें। सम्पूर्ण समाधान दिवस में जो शिकायत पत्र प्राप्त होते हैं उन्हें शिकायतकर्ताओं से सम्पर्क कर सच्चाई ईमानदारी से निस्तारण करना सुनिश्चित करें। कहा कि मारकुण्डी मानिकपुर में कार्यदायी संस्था सी एण्ड डीएस द्वारा कार्य कराया जा रहा है जो अभी तक अपूर्ण है। इस संबंध में ठेकेदार, सहायक अभियंता के खिलाफ 48 घंटे के अंदर एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिये। 102 एवं 108 एम्बूलेंस रात के वक्त थानों के पास खड़ी कराने के निर्देश दिये।

अस्पताल में जो भी डाक्टर तैनात हैं वह ईमानदारी से काम करने की जरूरत है। शिक्षा विभाग, राजस्व, स्वास्थ्य, पंचायत, पुलिस विभाग की छवि ठीक नहीं  है। इनको ठीक किया जाये। पंचायती राज विभाग को जो धनराशि प्राप्त हुई है जारी शासनादेश के अनुसार व्यय करने को कहा। समाज कल्याण विभाग छात्रवृत्ति शत प्रतिशत वितरित पायी गई। उन्होंने वृद्धा, विधवा, विकलांग में कोई लाभार्थी छूटा हो उसको सम्मिलित करते हुए लाभान्वित करने को समाचार पत्रों के माध्यम से प्रचार-प्रसार कर जागरूक किया जाये। मजदूरों का पंजीकरण हो। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि जो भी रिर्पोट विभागों की बनायेंगे वह पूरे वर्ष की बनायें। मनरेगा के तहत तालाबों का गहरीकरण किया जाये तथा भीटा में बरगद, पीपल, नीम, जामुन के पांच फुट के वृक्ष लगाये जायें। अधिशाषी अभियंता लोक निर्माण विभाग को निर्देश दिये कि जितनी भी सड़कें बन गई है या बना रहे हैं तथा गढ्ढामुक्त की सूची विधायकों को दी जाये। रामायण मेला के सामने वाली सड़क की धनराशि प्राप्त हो गई है। इसमें जो भी समस्याएं विभागवार हो उन्हें तत्काल निपटाकर काम शुरू कराया जाये। सेतु निगम द्वारा पुल बनाने की रिर्पोट जिलाधिकारी को दी जाये। पाइप पेयजल योजना बरगढ़ व मऊ अधूरी है। उन्हें विधायकों को लेकर जायें और कार्य योजना बनाकर तत्काल पूरा करायें। हैण्डपम्प मरम्मत योग्य हैं जल संस्थान नगर पंचायत एंव नगर पालिका से कराना सुनिश्चित करें।

बेसिक शिक्षा अधिकारी से कहा कि विद्यालयों का काया कल्प तो हो गया है, परन्तु शिक्षकों को समय से भेजा जाय और जिन स्थानों पर पानी व शौचालयों की कमी हो उसको तत्काल पूर्ण करें। अधिशाषी अभियंता विद्युत से कहा कि सौभाग्य योजना के तहत शत प्रतिशत कनेक्शन किये जायें। योजना में शिकायत नहीं मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास को समय से पूरा कराया जाये। आंगनबाड़ी केन्द्र पंचायती राज बना रहा है। जितने बन गये है उसमें पत्थर की पट्टिका लगवा दिया जाये। उन्होंने जल निगम, जल संस्थान के अधिकारियों से कहा कि गर्मी को देखते हुए पानी पीने की व्यवस्था तत्काल दीर्घकालीन कराना सुनिश्चित करें। कन्ट्रोल रूम के नम्बर मोटे-मोटे अक्षरों से विभिन्न चिन्हित स्थानों पर लिखवाये। कहा कि जिन विभागों की योजनाएं चल रही हैं उन्हें मौके पर जाकर निरीक्षण करें और पूरा करायें। नदियों की धारा से खनन कतई नहीं होना चाहिए। इसका भी सत्यापन कराते रहें। 

जिलाधिकारी विशाख जी. ने कहा कि बैठक में जो निर्देश दिये गए हैं उनका पालन कराया जायेगा। सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग लखनऊ से भेजी गई एलईडी वीडियो वैन एक से 30 अप्रैल तक विभिन्न ग्राम पंचायतों, ब्लाक, तहसीलों में प्रदेश सरकार के एक वर्ष पूर्ण होने पर सरकार की नीतियों, उपलब्धियों व कार्यक्रमों का प्रचार-प्रसार करा रहा है। बैठक में पुलिस अधीक्षक, मुख्य विकास अधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी, जिला विकास अधिकारी, परियोजना निदेशक, उप निदेशक कृषि प्रसार, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत, जिला कृषि अधिकारी, जिला उद्यान अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला बेसिक शिक्षाधिकारी, अधिशाषी अभियंता सिंचाई, विद्युत, जल संस्थान, जल निगम, लोक निर्माण विभाग, अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका परिषद सहित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

About the Reporter

  • राजकुमार याज्ञिक

    चित्रकूट जनपद के ब्यूरो चीफ एवं भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ के जिलाध्यक्ष राजकुमार याज्ञिक चित्रकूट जनपद के एक वरिष्ठ पत्रकार हैं। पत्रकारिता में स्नातक श्री याज्ञिक मुख्यतः सामाजिक व राजनीतिक मुद्दों पर अपनी गहरी पकड़ रखते हैं।, .

अन्य खबर

चर्चित खबरें