< ज्ञापन के बाद चेता नगर निगम Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News नगर निगम ने शुरू किए छुट्टा जानवर पकड़ना शुरू <"/>

ज्ञापन के बाद चेता नगर निगम

  • नगर निगम ने शुरू किए छुट्टा जानवर पकड़ना शुरू

ज्ञात हो कुछ दिन पहले रानीमहल के पास सांडो की लड़ाई में  एक व्यक्ति को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा था। इसके पहले भी छुट्टा जानवरों की लड़ाई में कई  घायल हो चुके हैं ,एवं कई की जान जा चुकी है । इन सब को देखते हुए *भारतीय मानवाधिकार एसोसिएशन झाँसी* ने एक ज्ञापन अपर नगर आयुक्त रोहन सिंह को दिया था और मांग की थी कि झांसी नगर में घूम रहे छुट्टा जानवरों को पकड़ा जाए एवं अन्य किसी स्थान पर छोड़ दिया जाए। भारतीय मानव अधिकार एसोसिएशन की इस मांग को मानते हुए नगर निगम में शहर में घूम रहे छुट्टा जानवरों को पकड़ने का कार्य शुरू कर दिया । यह कार्य प्रातः 4:00 बजे से प्रातः 7:00 बजे तक चलता है ।

इन जानवरों को पकड़कर अन्य किसी स्थान पर ओरछा के जंगलों में जहां पानी एवं घास की व्यवस्था हो, छोड़ दिया जाता है ताकि झांसी नगर में दुर्घटना एवं जानवरों के लड़ने से कोई हादसा घटित ना हो। पशु एवम चिकित्सा अधिकारी डॉ आर के निरंजन ने बताया छुट्टा जानवरों को पकड़वाकर कुछ गौशाला में एवं कुछ को नदी किनारे ओरछा के जंगल में छोड़ दिया जाता है जहां जानवरों की भोजन की व्यवस्था हो एवं आवारा घूम रहे कुत्तों की नसबंदी करा कर एवं एंटी रेबीज इंजेक्शन लगाकर उन कुत्तों के कान में कट लगा कर टैग किया जा रहा है। जल्द ही झांसी नगर को छुट्टा घूम रहे जानवरों से मुक्ति मिल सकती है यह जानकारी भारतीय मानव अधिकार एसोसिएशन के सदस्यों ने स्वयं नगर निगम कार्यालय जा कर ली।     

हमारे संवाददाता आकाश कुलश्रेष्ठ को जानकारी देते हुए डॉ निरंजन ने कहा चल रही गौशाला के लिए जगह चिन्हित की जा रही है और अतिशीघ्र आवारा जानवरों को रखने के लिए "कान्हा उपवन" गौशाला भी नगर निगम की सीमा में बन जाएगी जिससे झांसी की जनता को छुट्टा जानवरों से काफी राहत मिलेगी।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें