< योगी राज में भी शिक्षा के हाल बेहाल Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News बांदा जिले के परसौली गांव का प्राथमिक विद्यालय है। जह"/>

योगी राज में भी शिक्षा के हाल बेहाल

बांदा जिले के परसौली गांव का प्राथमिक विद्यालय है। जहाँ स्वच्छता और स्वस्थता का वास होना चाहिए, वहाँ गंदगी की वजह से स्वस्थता के परखच्चे उड़ते दिख रहे हैं। इस विद्यालय में छात्राओं के लिए टायलेट की व्यवस्था सफेद हाथी की तरह है। वहीं शिक्षा का स्तर निराशाजनक है।

छात्र योगी सरकार से अपेक्षा कर रहे हैं कि यहाँ समस्त व्यवस्थाएं हों, लेकिन उनकी आवाज प्रशासन व शासन तक शायद ही पहुंचती हो। पिछले दिनों चाइल्ड लाइन चित्रकूट के निदेशक इस गांव पहुंचे, तब विद्यालय की यह दशा तस्वीरों के माध्यम से सोशल मीडिया पर वायरल हुई। समाजसेवी अभिमन्यु भाई ने कहा कि इन हालात में छात्रों के भविष्य के साथ अन्याय हो रहा है। उत्तर प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था कागजी तौर पर कितनी भी अच्छी हो परंतु ग्रामीण स्तर पर हर सरकारी स्कूल के हालात कमोबेश ऐसे ही हैं।

अब असंभव सा लगने लगा कि शायद ही वो दिन आ सकें, जब इन विद्यालय पर भरोसा जताकर अभिभावक अपने बच्चों का भविष्य संवारने की उम्मीद कर सकें। असल में सरकारी स्कूल में गरीब तबके का छात्र ही अध्ययन हेतु पहुंचता है और गांव के सभ्रांत लोगों को दयनीय स्थिति को सुधारने में कोई रूचि नहीं होती।

जिस प्रकार के हालात दिख रहे हैं, वैसे में भारत में शिक्षा की लौ गुणवत्ता रूपी ईधन के अभाव में बुझती महसूस होती है।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें